आपके विचार

सेवा, सुशासन व गरीब कल्याण कार्यक्रम

ओम प्रकाश उनियाल

केन्द्र में जिसकी भी सरकार होती है वह जन कल्याणकारी योजनाओं को आमजन तक पहुंचाने का प्रयास करती है। जो भी योजनाएं भारत सरकार स्वीकृत करती है यदि उनका फायदा नागरिकों तक न पहुंचे तो यह सरकार की बहुत बड़ी खामी होती है। इसके लिए समय-समय पर प्रचार-प्रसार की आवश्यकता होती है। हर सरकार का काम करने का तरीका व नीतियां अलग-अलग होती हैं।

गरीबों के कल्याणार्थ आजादी के बाद न जाने कितनी योजनाएं भारत सरकार द्वारा चलायी जा चुकी हैं। फिर भी गरीबी बढ़ती ही जा रही है। गरीब दिन-प्रतिदिन गरीब बनता जा रहा है और अमीर दिन-प्रतिदिन अमीर। सरकारी आंकड़े तो सदैव यही दर्शाते आए हैं कि देश में गरीबी कम हो रही है। गरीबों के जीवन-स्तर में सुधार हो रहा है। वास्तविकता की तह तक तो कोई जाता नहीं। आज भी देश में ऐसे परिवार हैं जो भुखमरी के कगार पर खड़े हैं। कई लोग ऐसे हैं जिन्हें एक जून की रोटी के लिए भी तरसना पड़ता है।

सच्चाई तो यह है कि गरीबों के कल्याण के लिए भारत सरकार जो भी योजनाएं बनाती है उसका कुछ प्रतिशत लाभ गरीब उठा पाते हैं। योजनाओं का फायदा उस वर्ग के लोगों को ज्यादा मिलता है जो पात्र नहीं हैं। इसके पीछे कुछ जन-प्रतिनिधियों व प्रशासन की भ्रष्ट नीति होती है। बिचौलियों की धाक व सरकार पर पकड़ के चलते गरीबों का हिस्सा सक्षमों तक पहुंचता है। योजनाओं की मॉनिटरिंग भी होती है मगर वहां भी दूध का धुला कोई नहीं होता।

Related Articles

प्रचार-प्रसार की सीमितता के कारण गरीब को तो यह पता भी नहीं चलता कि कौन-सी योजना उसके कल्याण के लिए चलायी गयी है। वह तो आवाज तक नहीं उठा सकता। यदि कोई आवाज उठाना भी चाहे तो छुट्टभईए नेता से लेकर बड़े नेता, प्रशासन के भ्रष्ट कर्मी व पुलिस उस पर हावी होने लगते हैं।

वर्तमान में भारत सरकार ने मुफ्त राशन की योजना चलायी। लेकिन उसका अधिक फायदा कौन लोग अधिक उठा चुके हैं यह सब जानते हैं। यदि इस पर शुरु में ही सख्त कार्यवाही की जाती तो पूरा-पूरा लाभ गरीब तबके को मिलता।

मोदी सरकार के आठ साल पूरे होने के उपलक्ष में देशभर में 30 मई से 15 जून तक विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। जिसमें विभिन्न जन कल्याणकारी योजनाओं समेत गरीब कल्याण योजना का भी प्रचार-प्रसार किया जाएगा। ताकि अधिक से अधिक जरूरतमंदों व आमजन को इन कार्यक्रमों से जोड़ा जा सके। प्रदेश स्तर से लेकर बूथ-स्तर तक ये कार्यक्रम होंगे।


¤  प्रकाशन परिचय  ¤

Devbhoomi
From »

ओम प्रकाश उनियाल

लेखक एवं स्वतंत्र पत्रकार

Address »
कारगी ग्रांट, देहरादून (उत्तराखण्ड) | Mob : +91-9760204664

Publisher »
देवभूमि समाचार, देहरादून (उत्तराखण्ड)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Devbhoomi Samachar
Verified by MonsterInsights