आपके विचार

बरसात और बिजली के हादसों से बचें व बचाइए

बरसात और बिजली के हादसों से बचें व बचाइए… बारिश के इस मौसम में यदि बिजली गुल होती हैं तो हंगामा ना करे शांत रहे,ये सोचिए कि आप बारिश में भीगने से भी डरते हो, उन विपरित परिस्थितियों में भी कोई आपके लिए किसी खंभे पर या सब स्टेशन पर बिजली तारों से जूझ रहा होता है ‌। #विशेष संवाददाता सुनील कुमार माथुर

जोधपुर में मॉनसून की धमाकेदार एंट्री हो गयी है। गुरूवार को बारिश की पहली झड़ी ऐसी लगी कि पूरा शहर तरबतर हो गया। भीषण गर्मी से जूझ रहे लोगों को बादलों ने राहत दी और पारा लुढ़का तो लोग मौसम का मजा लेने बाहर निकल पड़े। राजस्थान के दूसरे बड़े जिले जोधपुर में मॉनसून प्रवेश कर चुका है.

यहां पिछले कुछ दिनों से आसमान में बादल छाने के साथ बूंदा-बांदी हो रही थी। गुरूवार को आसमान में बादल छाने के साथ ही झमाझम बारिश का दौर शुरू हो गया. सुबह से बादलों की आवाजाही होती रही और फिर बारिश की ऐसी झड़ी लगी कि क ई घरों में पानी भर गया।

बरसात के मौसम को देखते हुए बिजली विभाग ने आम जनता से अपील की है कि बिजली जाते ही फ़ोन ना करे, कृपया 10 मिनट तक इंतजार करे। बारिश का मौसम चल रहा है बिजली जनित हादसे से बचने हेतु जनता-जनार्दन निम्न सावधानियां बरतें।

Related Articles
  1. बिजली के खंभों को छुने से बचे।
  2. बिजली के खंभों से अपने मवेशियों को ना बांधे।
  3. यथासंभव बिजली लाइनों के नीचे कोई भी प्रोग्राम ना करे।
  4. नए भवनों से बिजली लाइनों की उचित दूरी बनाए रखें।
  5. खेत की मेड़ पर यदि बिजली खंभा लगा है तो उचित दूरी रख कर ही जुताई करे।
  6. बिजली खंभे पर यदि स्पार्किंग हो रही हैं तो तुरंत अपने फीडर इंचार्ज(लाइनमैन), जेईएन,संबंधित सब स्टेशन पर सूचना देवे।
  7. यदि बारिश में खंभे पर तेज स्पार्क हो रहा हो और आस पास पानी भरा हुआ है तो उस रास्ते से या पानी में जाने से बचे व दूसरों को भी सावधान करें।
  8. यदि बिजली के तार किसी पेड़ के निकट से गुजर रहे हो तो किसी भी स्थिति में उस पर चढ़ने से बचे।
  9. ट्रांसफार्मर, लाइनो पर डंडे से या किसी और चीज से कुंडी नहीं डाले, हेवी लाइनों पर रिसाव होने से व ग्राउंड होने से बड़ा हादसा हो सकता है।
  10. किसी भी बड़े वाहन की छत पर यात्रा न करे।
  11. यदि बारिश की वजह से कोई लाइन ढीली पड़ गई हो या सड़क के उपर से नीची हो तो तुरंत अपने फीडर इंचार्ज(लाइनमैन), जेईएन या फिर सब स्टेशन पर सूचना देवे ताकि समय पर सुधार हों सके
  12. बिजली खंभों को चार दिवारी या बाउंट्रिवाल में अतिक्रमण ना करें, हादसा होने पर भारी नुकसान हो सकता है। 13.घर में उपकरण अच्छी क्वालिटी के ही उपयोग करें।
  13. घर के अंदर बिजली फिटिंग में अर्थिंग जरूर कराएं व अपने उपकरण को उससे जोड़े रखे।
  14. अपने सभी स्विच,एमसीबी, इएलसीबी उच्च कोटि की ही काम में लावे व लगावें।
  15. बगैर जानकारी के किसी भी उपकरण को छुने या खोलने से बचे। 17.यदि कोई व्यक्ति बिजली के गिरफ्त मे हो तो तुरंत उसे बचाने हेतु निम्न कार्य करे [सबसे पहले अपने आपको किसी सुखी जगह पर होना सुनिश्चित करें, फिर अपने जूते, जो भीगे ना हो, कोई भी धातु लगे ना हो,वह पहने,फिर किसी इंसुलेटेड डंडे (प्लास्टिक, लकड़ी जो सुखा हों) से व्यक्ति को छुड़ाने का प्रयास करे,यदि शोक घर के अंदर लगा है तो तुरंत मेन स्विच ऑफ करे।

बारिश के इस मौसम में यदि बिजली गुल होती हैं तो हंगामा ना करे शांत रहे,ये सोचिए कि आप बारिश में भीगने से भी डरते हो, उन विपरित परिस्थितियों में भी कोई आपके लिए किसी खंभे पर या सब स्टेशन पर बिजली तारों से जूझ रहा होता है। बिजली हादसे से बचे व बचाएं।

युवा पीढ़ी और अभिभावक


बरसात और बिजली के हादसों से बचें व बचाइए... बारिश के इस मौसम में यदि बिजली गुल होती हैं तो हंगामा ना करे शांत रहे,ये सोचिए कि आप बारिश में भीगने से भी डरते हो, उन विपरित परिस्थितियों में भी कोई आपके लिए किसी खंभे पर या सब स्टेशन पर बिजली तारों से जूझ रहा होता है ‌। #विशेष संवाददाता सुनील कुमार माथुर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Devbhoomi Samachar
Verified by MonsterInsights