गांव-गांव का दौरा करें खण्ड विकास अधिकारी

रूद्रपुर। सभी खण्ड विकास अधिकारी प्रतिदिन क्षेत्र भ्रमण कर चल रही योजनाओं एवं कार्यों का स्थलीय निरीक्षण करना सुनिश्चित करें। यह निर्देश जिलाधिकारी युगल किशोर पन्त ने मंगलवार को जिला कार्यालय सभागार में मनरेगा, एनआरएलएम कार्यों की गहनता से समीक्षा करते हुए दिये।

उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि सभी खण्ड विकास अधिकारी प्रत्येक दिवस आधा समय दफतर में तथा आधा समय क्षेत्र भ्रमण करना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी ने कहा कि जब तक खण्ड विकास अधिकारी गॉव-गॉव तक नहीं पहुॅचेंगे तब तक गॉव की समस्याओं एवं आवश्यकताओं के बारे में सही से पता नहीं चल पायेगा।

उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि इस वर्ष मनरेगा में सीमेंट आधारित कार्यों का शामिल नहीं किया जाये, बल्किा लाभार्थियों के लिए कृषि एवं कृषि पर आधारित रोजगार सृजनात्मक योजनाओं को शामिल किया जाये। उन्होंने निर्देश दिये कि योजना के अन्तर्गत सबसे पहले छोटे-छोटे कार्यों को शीघ्रता से पूर्ण किया जाये।

योजनाओं के पूर्ण होने पर जानकारी आधारित साइन बोर्ड लगाये जाये जिनमें कार्य की माप एवं सम्पूर्ण जानकारी अंकित हो। उन्होंने जियो टैग की जानकारी लेते हुए कहा कि योजनाओं का जियो टैग होना अनिवार्य है। जिलाधिकारी ने जिला विकास अधिकारी को निर्देश दिये कि जिन योजनाओं का जियो टैग नही होगा, ऐसी योजनाओं का भुगतान किसी भी दशा में न किया जाये।

उन्होंने एनआरएलएम के अन्तर्गत जनपद में चल रहे कार्यों की समीक्षा करते हुए निर्देश दिये कि कृषि, पशुपालन, उद्यान, मत्स्य, रेशम आदि विभाग आपसी समन्य से समूह आधारित कार्य करना सुनिश्चित करें तथा इण्टीग्रेटेड फार्मिंग को बढ़ावा देना सुनिश्चित करें। उन्होंने प्राथमिकता के आधार पर आजीविका संसाधनों को बढ़ाने तथा जल संरक्षण एवं संवर्धन पर आधारित कार्यों को प्राथमिकता से करने के निर्देश दिये।

उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि गरीब से गरीब ऐसे लाभार्थियों का चयन किया जाये जिनमें कार्य करने की इच्छा शक्ति एवं कार्यों के प्रति ललक हो तथा निष्क्रिय व्यक्तियों का चयन कतई न किया जाये। उन्होंने काशीपुर तथा सितारगंज में दो कलस्टर बनाने के निर्देश उप निदेशक मत्स्य को दिये। उन्होंने चयनित लाभार्थियों को विभिन्न विभागों की संचालित स्कीमों से डब टेलिंग करते हुए लाभांवित करने के निर्देश दिये।

जिलाधिकारी ने उद्यान विभाग के अधिकारियों को मनरेगा से डबटेलिंग करते हुए फलदार पौधों का रोपण करने के निर्देश देते हुए कहा कि जनपद में जगह-जगह फलदार पौधोें का रोपण किया जाये। उन्होंने यह भी निर्देश दिये कि भू-कटाव वाले स्थानों पर भू-कटाव रोकने में सहायक पौधों का रोपण किया जाये। उन्होंने हरेला पर्व पर जनपद में वृहद्ध वृक्षारोपण कार्यक्रम आयोजित करने हेतु अभी से ही सभी तैयारियॉ पूर्ण करने के निर्देश मुख्य उद्यान अधिकारी को दिये।

जिलाधिकारी ने विभिन्न योजनाओं में धीमी प्रगति पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कार्यों में तेजी लाने तथा सोशल ऑडिट से सम्बन्धित कार्यो को शीघ्रता से निस्तारित करने के निर्देश खण्ड विकास अधिकारी खटीमा को दिये। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी आशीष भटगाई, जिला विकास अधिकारी डॉ.महेश कुमार, उप निदेशक मत्स्य संजय कुमार छिमवाल, मुख्य उद्यान अधिकारी भावना जोशी, खण्ड विकास अधिकारी सीआर आर्य, हरीश चन्द्र जोशी, जीजी गोस्वामी, नवीन उपाध्याय आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Devbhoomi Samachar
Verified by MonsterInsights