पति ने मारकर फंदे पर लटकाया… गला भी घोंटा | Devbhoomi Samachar

पति ने मारकर फंदे पर लटकाया… गला भी घोंटा

पुलिस ने आरोपी से पूछताछ के बाद बुधवार को उसे कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है। पुलिस फिर से उसका रिमांड कोर्ट से मांगेगी और आगे की पूछताछ करेगी। वैशाली नगर टीआई ममता अली शर्मा को बयान में योगिता की मां अनुसुइया साहू ने बताया कि वो लोग नेवरीकला बालोद के रहने वाले हैं। 

छत्तीसगढ़ के भिलाई शहर में एक युवक ने अपनी पत्नी की पहले तो गला दबाकर हत्या कर दी, फिर उसे खुदकुशी का रूप देने के लिए शव को फांसी के फंदे पर लटका दिया। शॉर्ट पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से मौत की वजह का पता चलने पर पुलिस ने आरोपी पति को हिरासत में ले लिया। कड़ाई से पूछताछ करने पर पति ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। इसके बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। मामला वैशाली नगर थाना क्षेत्र का है। वैशाली नगर थाना प्रभारी ममता शर्मा ने बताया कि राम नगर आटा चक्की के पास रहने वाले विजय साहू की पत्नी योगिता साहू (32) की लाश 14 जनवरी 2024 की शाम 5.30 बजे फांसी पर लटकी हुई मिली थी।

उसके पति ने उसके शव को फंदे से नीचे उतारा और उसे स्पर्श हॉस्पिटल ले गया था। वहां डॉक्टरों ने महिला को मृत घोषित कर दिया। शॉर्ट पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में पता चला कि योगिता के सिर और शरीर पर चोट के गंभीर निशान हैं, साथ ही उसका गला घोंटा गया है, जिसके चलते उसकी मौत हुई है। इससे साफ था कि उसकी हत्या कर खुदकुशी का रूप देने की कोशिश की गई है। इसके बाद वैशाली नगर पुलिस ने परिजनों और आसपास के लोगों से पूछताछ की। इसमें पता चला कि आरोपी विजय साहू अपनी पत्नी को दहेज के लिए प्रताड़ित करता था। इसके बाद पुलिस ने पति को हिरासत में लेकर कड़ाई से पूछताछ की, जिसमें उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया।

धरती की सबसे अमीर महीला, जिसके सामने मस्क-अंबानी–अडानी सब फेल

इसके बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने आरोपी से पूछताछ के बाद बुधवार को उसे कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है। पुलिस फिर से उसका रिमांड कोर्ट से मांगेगी और आगे की पूछताछ करेगी। वैशाली नगर टीआई ममता अली शर्मा को बयान में योगिता की मां अनुसुइया साहू ने बताया कि वो लोग नेवरीकला बालोद के रहने वाले हैं। उनकी बेटी योगिता की शादी 13 फरवरी 2019 को रामनगर आटा चक्की के पास रहने वाले विजय साहू (35) के साथ पूरे रीति-रिवाज से हुई थी। शादी के बाद योगिता ससुराल में रह रही थी। उसका पति विजय उसे शुरू से ही दहेज के लिए प्रताड़ित करता था। आए दिन वो उसे मायके से सोने-चांदी, नगद लाने को कहता था।

उसने गाड़ी की डिमांड भी की थी। 14 जनवरी को आरोपी ने फिर से दहेज के लिए योगिता से मारपीट की। इसके बाद अचानक दामाद का फोन आया और कहा कि पत्नी की मौत स्पर्श हॉस्पिटल में हो गई है। योगिता की मौत के बाद तहसीलदार गुरुदत्त पंचभये के सामने उसका शॉर्ट पोस्टमॉर्टम किया गया। डॉ अंकिता पांडे और डॉ शीतल झा सीनियर मेडिकल ऑफिसर शासकीय अस्पताल सुपेला ने किया। उन्होंने रिपोर्ट में मौत का कारण सिर पर चोट और गला घोंटना बताया, जबकि पति विजय साहू ने पुलिस को बताया था कि पत्नी ने फांसी लगाई है और उसने खुद अपने बेडरूम से उसे फांसी के फंदे से नीचे उतारा था और स्पर्श हॉस्पिटल पहुंचाया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

ग्वालियर में पूर्व डीजीपी की नातिन की हत्या के 6 आरोपी जेल से भागे

स्पर्श हॉस्पिटल में विवाहिता की मौत के बाद वहां से पुलिस को मामले की सूचना दी गई। पुलिस ने शुरुआती जांच में पाया कि शव के सिर, कमर, पीठ सहित पेट और होंठ पर चोट के गंभीर निशान थे। हाथ के पंजों पर भी खून का जमाव था। गले में लिगेचर मार्क पाया गया। इसके बाद परिजनों ने दामाद पर बेटी की हत्या का आरोप लगाया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Devbhoomi Samachar
Verified by MonsterInsights