अंतरराष्ट्रीय महिला काव्य मंच पंचकूला इकाई की सबरंग गोष्ठी | Devbhoomi Samachar

अंतरराष्ट्रीय महिला काव्य मंच पंचकूला इकाई की सबरंग गोष्ठी

अंतरराष्ट्रीय महिला काव्य मंच पंचकूला इकाई की सबरंग गोष्ठी, आ. कृष्णा गोयल जी संदेश देती रचना आ. उषा गर्ग की पर्यावरण पर सुनीता एंजेल क्या मोहब्बत इसी को कहते हैं, आ. डेज़ी बेदी गजल तेरी आरजू तेरी जुस्तजू मेरा दिल तुझी पर आया है।

श्री नरेश नाज़ द्वारा स्थापित महिला काव्य मंच (रजि.) की पंचकूला इकाई सबरंग गोष्ठी का आयोजन 17/05/2023 वार बुधवार को किया। श्रीमती गरिमा गर्ग जी की अध्यक्षता में एवं सुनीता गर्ग (अध्यक्ष ट्राइसिटी) के सान्निध्य में यह मासिक काव्य गोष्ठी संपन्न हुई। कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्वलन व मां शारदे को पुष्प अर्पण कर श्रीमती रेणु अब्बी’रेणू’ जी द्वारा सरस्वती वंदना के साथ हुआ।

सभी कलाकारों ने शब्द रूप पुष्प माँ शारदे के चरणों में अर्पित किए। इस मौके पर अति विशिष्ट अतिथि महिला काव्य मंच की राष्ट्रीय महासचिव तथा चंडीगढ़ की प्रभारी श्रीमती शारदा मित्तल जी और ट्राइसिटी की अध्यक्षा श्रीमती सुनीता गर्ग जी महिला काव्य मंच पंचकूला इकाई काव्य गोष्ठी में पधारी। उन्होंने अपने दोहे, गीत, ग़ज़ल सुना कर सभी को मोहित कर दिया।

इसके साथ सभी सम्माननीय पदाधिकारीगण एवं बहुत से काव्य प्रेमी गुणीजनों ने अपनी-अपनी रचनाओं को प्रस्तुत कर महफ़िल में चार चाँद लगा दिए। मंच का संचालन महिला काव्य मंच पंचकूला अध्यक्षा गरिमा गर्ग एवं उपाध्यक्षा रेणु अब्बी ‘रेणू’ ने कुशलतापूर्वक किया। राष्ट्रीय अतिथि महिला काव्य मंच की महासचिव शारदा मित्तल जी ने दोहे “शब्द बड़े अनमोल हैं, मत बोलो बिन तोल, कुछ भरते हैं ज़ख्म को, कुछ देते हैं खोद।

अध्यक्ष चंडीगढ़ श्रीमती संगीता कुंदरा ने गज़ल प्रस्तुति.. अब तो लोगों से नज़र बचाने लगे। आ. सरोज चोपड़ा, आ. जसविंदर जी, आ. रेखा मित्तल जी ने मां पर, ट्राइसिटी अध्यक्ष सुनीता गर्ग जी ने अपनी ग़ज़ल उनसे मिलने लगे यूं ही छुप छुप के हम, उनके पहलू में जब जिंदगी देख ली। अध्यक्षा पंचकूला आ. गरिमा गर्ग उपाध्यक्ष आ. नीलम नारंग दोस्ती पर बरसों पहले देखा था उसी सपना उसी सपने में खुद को सोती जगाती रही।

आ. कृष्णा गोयल जी संदेश देती रचना आ. उषा गर्ग की पर्यावरण पर सुनीता एंजेल क्या मोहब्बत इसी को कहते हैं, आ. डेज़ी बेदी गजल तेरी आरजू तेरी जुस्तजू मेरा दिल तुझी पर आया है। आ.आ.शीनू वालिया शानदार रचना आ. रीति के सुरमई आवाज में प्रस्तुति आ. दीपा अरोड़ा, आ. नीतू गर्ग आदि ने प्रस्तुति दी पंचकूला सचिव आ. मोनिका कटारिया ने।

उपाध्यक्ष पंचकूला रेणु अब्बी’रेणू’ने मार्मिक रचना” मां” पर, सत्यवती आचार्य ने “दोस्ती” पर एक सुन्दर रचना “साथी देकर धन्य किया है” सुनाई, तो सोनिमा सत्या जी की भी शानदार प्रस्तुति रहीl महिला काव्य मंच पर सभी सखियों ने कार्यक्रम को रंगों से सराबोर किया व अपनी शानदार रचना प्रस्तुत कर कार्यक्रम को सफल बनाया। अध्यक्ष गरिमा गर्ग एवं ट्राइसिटी अध्यक्ष सुनीता गर्ग जी ने सभी की रचनाओं की बहुत सराहना की ।महिला काव्य मंच पंचकूला उपाध्यक्ष रेणु अब्बी’रेणू’ जी ने सब का धन्यवाद किया।

क्या बिहार का अति पिछडा नेत्रित्व विहीन हैं : सतीश राणा


👉 देवभूमि समाचार में इंटरनेट के माध्यम से पत्रकार और लेखकों की लेखनी को समाचार के रूप में जनता के सामने प्रकाशित एवं प्रसारित किया जा रहा है। अपने शब्दों में देवभूमि समाचार से संबंधित अपनी टिप्पणी दें एवं 1, 2, 3, 4, 5 स्टार से रैंकिंग करें।

अंतरराष्ट्रीय महिला काव्य मंच पंचकूला इकाई की सबरंग गोष्ठी, आ. कृष्णा गोयल जी संदेश देती रचना आ. उषा गर्ग की पर्यावरण पर सुनीता एंजेल क्या मोहब्बत इसी को कहते हैं, आ. डेज़ी बेदी गजल तेरी आरजू तेरी जुस्तजू मेरा दिल तुझी पर आया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Devbhoomi Samachar
Verified by MonsterInsights