बिहार का सुंदर शहर ‘नवादा’

बिहार का सुंदर शहर ‘नवादा’… इसके अलावा सीबीएसई से संबद्ध कई निजी स्कूल यहां स्थित हैं और कालेज भी हैं लेकिन स्नातकोत्तर स्तर के उच्चतर शिक्षण संस्थानों की कमी आज भी… ✍️ राजीव कुमार झा

नवादा बिहार का महत्वपूर्ण शहर है ! यह गया , पटना और बिहार शरीफ के बीच स्थित है और पिछले कुछ सालों में इस शहर का
तेजी से विकास हुआ है. यह जिला मुख्यालय भी है और यहां से गिरियक होते राजगीर और रजौली के जंगलों को पार करके झारखंड के कोडरमा होते रांची की तरफ भी जाने के लिए राजमार्ग है!

नालंदा ग्रामीण शहर है और आज भी उद्योग धंधों की कमी यहां है! यहां सभी धर्मों – जातियों के लोग रहते हैं ! यहां प्रजातंत्र द्वार के पास स्थित चौक नगर का मुख्य चौराहा है और हिसुआ के अलावा वारिसलीगंज नवादा के प्रमुख उपनगर हैं ! यहां से थोड़ी दूर ककोलत का जलप्रपात है यह इस शहर में आने वाले सैलानियों का प्रमुख आकर्षण है!

यहां का संग्रहालय भी दर्शनीय है ! नवादा किऊल – गया रेलखंड पर स्थित है और अब इसका दोहरीकरण का काम तेजी से चल रहा है! यह शिक्षा का भी केन्द्र है ! महिलाओं के कालेज के अलावा विधि की पढ़ाई का कालेज भी यहां है!

इसके अलावा सीबीएसई से संबद्ध कई निजी स्कूल यहां स्थित हैं और कालेज भी हैं लेकिन स्नातकोत्तर स्तर के उच्चतर शिक्षण संस्थानों की कमी आज भी यहां की प्रमुख समस्या है ! यह एक शांतिप्रिय शहर है !

प्रकृति की सुरम्य वादियों में बसा एक गांव ‘‘दोली’’


¤  प्रकाशन परिचय  ¤

बिहार का सुंदर शहर 'नवादा'... इसके अलावा सीबीएसई से संबद्ध कई निजी स्कूल यहां स्थित हैं और कालेज भी हैं लेकिन स्नातकोत्तर स्तर के उच्चतर शिक्षण संस्थानों की कमी आज भी... ✍️ राजीव कुमार झा
From »

राजीव कुमार झा

कवि एवं लेखक

Address »
इंदुपुर, पोस्ट बड़हिया, जिला लखीसराय (बिहार) | Mob : 6206756085

Publisher »
देवभूमि समाचार, देहरादून (उत्तराखण्ड)

चण्डी घाट : हरिद्वार का सबसे आकर्षक और विहंगम घाट

 


👉 देवभूमि समाचार में इंटरनेट के माध्यम से पत्रकार और लेखकों की लेखनी को समाचार के रूप में जनता के सामने प्रकाशित एवं प्रसारित किया जा रहा है। अपने शब्दों में देवभूमि समाचार से संबंधित अपनी टिप्पणी दें एवं 1, 2, 3, 4, 5 स्टार से रैंकिंग करें।

बिहार का सुंदर शहर 'नवादा'... इसके अलावा सीबीएसई से संबद्ध कई निजी स्कूल यहां स्थित हैं और कालेज भी हैं लेकिन स्नातकोत्तर स्तर के उच्चतर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Devbhoomi Samachar
Verified by MonsterInsights