प्रेमिका के कहने पर पिता ने की बेटे की “निर्मम हत्या”

देखें वीडियो : कैसे बयान बदल रहा है मोहनलाल, हर बार अलग कहानी सुनाने लगता

इस समाचार को सुनें...

प्रेमिका के कहने पर पिता ने की बेटे की “निर्मम हत्या”, बेटे के काटे गए हाथों को खेत पर बनी के लिए बनी बोरिंग के 350 फीट गड्ढे में फेंक दिए थे। पुलिस ने साइबर टीम की मदद से कॉल डिटेल भी खंगाली। कटे हुए हाथ बरामद करने के लिए घंटों पूरे इलाके की झाड़ियों में खोजबीन भी की थी।

देवास। मध्य प्रदेश के देवास जिले में 15 साल के लड़के की हाथ कटी लाश मिली थी। घटना के तीसरे दिन गहन जांच के बाद पुलिस ने हत्या के मामले का खुलासा कर दिया। देवास एसपी डॉक्टर शिव दयाल सिंह ने बताया कि पिता ने ही बेटे हरिओम की गला दबाकर हत्या की थी। बाद में उसके दोनों हाथ कंधे से काटकर 350 फीट गहरे बोरिंग के गड्ढे में फेंक दिए थे। प्रेमिका के कहने पर पिता ने बेटे की निर्मम हत्या करने की बात कुबुल की है।

पुलिस ने आरोपी पिता मोहनलाल और उसकी 28 साल की प्रेमिका आशा को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस अब कैमरे की मदद से बोरिंग में फेंके गए मृतक के दोनों हाथ और उसका शर्ट निकालने की कोशिश कर रही है। दरअसल, 6 दिसंबर की शाम 15 साल के लड़के की हाथ कटी लाश मिली थी। जिले के बरोठा थाना क्षेत्र के ग्राम बांगरदा हरिओम नाम के लड़के की इतनी बर्बरता से की गई हत्या से गांव में सनसनी फैली हुई थी। गांव वालों का कहना था कि हरिओम की किसी से दुश्मनी नहीं थी।

मामले की जांच कर रही बरोठा थाना पुलिस ने जब मृतक हरिओम के पिता मोहनलाल से घटना के संबंध में पूछताछ की। आरोपी पिता ने पुलिस से पहली बार में कहा था कि बेटा हरिओम पांच दिसंबर की रात करीब ढाई बजे खेत पर फसल में पानी देने गया था। अगली सुबह 5 बजे तक वह घर नहीं पहुंचा था। पहले हमें लगा था कि वह अपने मामा के घर चला गया है। अगली बार जब पुलिस ने उससे पूछताछ की, तो उसका बयान बदल गया। इससे पुलिस को पिता पर ही शक हुआ। इसके बाद पुलिस ने पिता से साइंटिफिक तरीके लंबी पूछताछ की।

सिलसिलेवार घटना का ब्योरा पूछा। वह हर बार अलग कहानी सुनाने लगता। बार-बार बदलते बयानों की वजह से वह खुद ही उलझ गया और अंत में उसने अपने बेटे हरिओम की हत्या करने की बात कुबुल कर ली। मामले की गंभीरता को देखते हुए खुद एसपी डॉक्टर शिव दयाल सिंह, एडिशनल एसपी मनजीत सिंह चावला सहित आला अधिकारी मौके पर पहुंचे थे। जांच में डॉग स्क्वॉयड की भी सहायता ली गई थी। साथ ही पुलिस ने साइबर टीम की मदद से कॉल डिटेल भी खंगाली। कटे हुए हाथ बरामद करने के लिए घंटों पूरे इलाके की झाड़ियों में खोजबीन भी की थी।


देखें मोहनलाल के बयानों का वीडियो… ⇓




आरोपी पिता मोहनलाल ने पुलिस को बताया, ”मेरे अपने चचेरे भाई की पत्नी आशा से अवैध संबंध हैं। बेटे हरिओम ने 2 दिसंबर को हम दोनों को आपत्तिजनक स्थिति में देख लिया था। आशा ने मुझ पर बेटे की हत्या का दबाव बनाया। मुझे भी लगा कि कहीं बेटा सभी को हम दोनों के बारे में बता न दे।” मोहनलाल ने आगे कहा, “फिर मैंने 5 दिसम्बर की रात करीब 2:30 बजे हरिओम को नींद से उठाया और उसे खेत चलने के लिए कहा।




देखें कैसे धरा गया कतिल और उसकी प्रेमिका… ⇓




वह मेरे साथ खेत पर आ गया। यहां मैं उसे खेत पर बने मकान की छत पर ले गया। फिर बेटे का रस्सी से गला दबा दिया। जब बेटे की मौत हो गई, तो उसके दोनों हाथ दरांती से काट दिए। आरोपी ने आगे बताया कि शव को खेत में झाड़ियों में फेंक दिया था। बेटे के काटे गए हाथों को खेत पर बनी के लिए बनी बोरिंग के 350 फीट गड्ढे में फेंक दिए थे। फिर सुबह करीब 5:18 बजे पुलिस को बेटे की हत्या होने की झूठी खबर दी थी। पुलिस ने कहा कि आरोपी पिता और प्रेमिका के बीच पिछले पांच साल से अवैध संबंध हैं। आशा खुद भी दो बच्चों की मां है। हत्या के आरोपी पिता और उसकी प्रेमिका को गिरफ्तार कर लिया गया है।

हैवानियत : खाने में बाल निकला और पत्नी को किया गंजा


👉 देवभूमि समाचार में इंटरनेट के माध्यम से पत्रकार और लेखकों की लेखनी को समाचार के रूप में जनता के सामने प्रकाशित एवं प्रसारित किया जा रहा है। अपने शब्दों में देवभूमि समाचार से संबंधित अपनी टिप्पणी दें एवं 1, 2, 3, 4, 5 स्टार से रैंकिंग करें।

प्रेमिका के कहने पर पिता ने की बेटे की "निर्मम हत्या", बेटे के काटे गए हाथों को खेत पर बनी के लिए बनी बोरिंग के 350 फीट गड्ढे में फेंक दिए थे। पुलिस ने साइबर टीम की मदद से कॉल डिटेल भी खंगाली। कटे हुए हाथ बरामद करने के लिए घंटों पूरे इलाके की झाड़ियों में खोजबीन भी की थी।

हरिद्वार : ट्यूशन नहीं जाना था, रची किडनैपिंग की कहानी, पुलिस परेशान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Devbhoomi Samachar