निबंध प्रतियोगिता में साहित्यकार माथुर सम्मानित

इस समाचार को सुनें...

(देवभूमि समाचार)

जोधपुर। आजादी का 75 वां अमृत महोत्सव 2021 – 22 के तहत जोधपुर शहर जिला कांग्रेस कमेटी की ओर से शहीद भगत सिंह के जीवन पर आयोजित जिला स्तरीय हस्तलिखित निबंध प्रतियोगिता में साहित्यकार सुनील कुमार माथुर का निबंध श्रेष्ठ प्रतिभागियों के रूप में चयनित किया गया। शहीद भगत सिंह की जयन्ती पर आयोजित सम्मान समारोह में कमेटी के जिला संयोजक एवं पूर्व पार्षद ओम कार वर्मा ने साहित्यकार सुनील कुमार माथुर को श्रेष्ठ प्रतिभागी के रूप में स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया एवं सभी प्रतिभागियों के उज्ज्वल भविष्य की कामना की ।

माथुर इससे पहले भी देहरादून से प्रकाशित देवभूमि समाचार पत्र की ओर से आयोजित प्रतियोगिताओ में उत्कृष्ट लेखनी व सर्वश्रेष्ठ रचनाकार के रूप में सम्मानित हो चुके है । माथुर बाल प्रहरी व बाल साहित्य संस्थान अल्मोड़ा उतराखण्ड ध्दारा आयोजित ऑनलाइन कार्यशालाओ में अपनी भागीदारी निभा कर व बच्चों का मार्गदर्शन कर बाल साहित्य संस्थान अल्मोड़ा उतराखण्ड ध्दारा सम्मानित हो चुके है। सुनील कुमार माथुर की रचनाएं व पत्र स्थानीय, राज्य व राष्ट्रीय स्तर की पत्र पत्रिकाओ में समय- समय पर प्रकाशित होती रहती है । उनकी रचनाएं स्थानीय समाचार पत्रों में खूब प्रकाशित हो चुकी है । वे 1971 से नियमित रूप से लेखन का कार्य कर रहें है और कई समाचार पत्रों में अपनी सेवाएं दे चुके हैं ।

माथुर 27 जून 2004 को वेदांग ज्योति – ज्ञान मंदिर – सेवा भारती के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित एक दिवसीय आध्यात्मिक संगोष्ठी में अध्यात्मविद् की मानद उपाधि से सम्मानित किये गये । यह आयोजन श्री गायत्री शक्ति पीठ ( गायत्री मन्दिर ) मेडतासिटी राजस्थान में आयोजित किया गया था। माथुर को राजस्थान कायस्थ महासभा जयपुर द्धारा 4 अगस्त 2009 को महासभा के रजत जयंती वर्ष के उपलक्ष में समाज के प्रति अतुल्य, उत्कृष्ट एवं अविस्मरणीय सेवाओं तथा भारत राष्ट्र राज्य की मजबूती के लिए उनके द्धारा विभिन्न क्षेत्रों में दिये जा रहें योगदान के लिए चित्ररत्न सम्मान से अंलकृत किया गया । माथुर 26 जनवरी 2006 व 15 अगस्त 2010 व 2011 उपजिला कलक्टर मेडता सिटी ( राजस्थान ) से उत्कृष्ट व उल्लेखनीय कार्य के लिए सम्मानित हो चुके है ।

माथुर रेड एण्ड व्हाइट बहादुरी पुरस्कार से भी सम्मानित हो चुके है । इसके अलावा वाल॔टियर मासिक पत्रिका कानपुर द्धारा बाल साहित्य लेखन के लिए सम्मानित हो चुके है । बाल साहित्यकार सुनील कुमार माथुर ने एक बार ग्रीष्मकालीन अवकाश के दौरान राजस्थान राज्य भारत स्काउट व गाइड जिला मुख्यालय जोधपुर में बच्चों को निः शुल्क पत्रकारिता का प्रशिक्षण दिया । उन्होंने कहानी लेखन महाविद्यालय अम्बाला छावनी से पत्रकारिता का डिप्लोमा किया । माथुर ने अपने स्कूली जीवन में अध्ययन के साथ ही साथ अनेक बार यू एन ओ की परीक्षा देकर सर्वाधिक अंक हासिल कर सम्मानित हो चुके है । माथुर ने लेखन को कभी भी रोजगार का जरिया नहीं बनाया एवं अनेक पत्रकारों का समय- समय पर मार्गदर्शन किया ।

(साभार)

19 Comments

  1. बहुत बहुत बधाई हो आपको,आपकी लेखनी बहुत ही उच्च कोटि की है,,आपको सम्मानित होने पर बहुत शुभकामनाएं, ईश्वर से आपके उज्ज्वल भविष्य की कामना करता हूँ।।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!