भाजपा प्रत्याशी शाह के परिवार के पास 200 करोड़ की संपत्ति

कांग्रेस प्रत्याशी जोत सिंह गुनसोला ने भी अपनी संपत्ति का ब्यौरा प्रस्तुत किया है। उनकी कुल संपत्ति छह करोड़ रुपये के करीब है। इसमें 10 लाख 22 हजार रुपए नगद हैं। तीन करोड़ रुपये के भूमि व मकान और करीब तीन करोड़ रुपये के विरासती संपत्ति है। 

देहरादून। टिहरी गढ़वाल लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी माला राज्य लक्ष्मी शाह ने नामांकन में परिवार समेत अपनी निजी संपत्ति का ब्योरा प्रस्तुत किया। शाह परिवार के पास वर्तमान में करीब दो सौ करोड़ रुपये की संपत्ति है, जबकि सात करोड़ से अधिक की निजी संपत्ति प्रत्याशी माला राज्य लक्ष्मी शाह के पास है। शाह परिवार की कुल संपत्ति वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में करीब 185 करोड़ बताई गई थी, जिसमें करीब 15 करोड़ का इजाफा दर्ज किया गया है।

मंगलवार को भाजपा प्रत्याशी माला राज्य लक्ष्मी शाह ने नामांकन के दौरान अपनी सभी सपंत्तियों का ब्योरा रिटर्निंग अफसर के समक्ष जमा किया। इसमें बताया गया कि उनकी निजी संपत्ति करीब सात करोड़ है। वहीं उनके पूरे परिवार की संपत्ति करीब 200 करोड़ बताई गई है। माला राज्य लक्ष्मी शाह की निजी संपत्ति 12 वर्ष पूर्व 1.5 करोड़ रुपये थी। अब सात करोड़ के पार पहुंच गई है। वहीं अचल संपत्ति वर्ष 80 लाख रुपये से बढ़कर 90 लाख रुपये हो गई है।

प्रत्याशी माला राज्य लक्ष्मी शाह के पति मनुजेंद्र शाह की चल संपत्ति में इजाफा दर्ज किया गया है। यह 30 करोड़ रुपये से बढ़कर 46 करोड़ रुपये पहुंच गई है। उनकी अचल संपत्ति 130 करोड़ रुपये से 147 करोड़ रुपये हो गई है। उनके परिवार के पास हिंदू अविभाजित कुटुंब की संपत्ति साढ़े तीन करोड़ रुपये है, जबकि कुल देनदारी करीब 17 करोड़ रुपये है।

वर्ष 1971 में माला राज्य लक्ष्मी शाह ने काठमांडू नेपाल स्थित रत्ना राजे लक्ष्मी कालेज से 12वीं की पढ़ाई की। उनके पास ढाई किलो सोने व हीरे के आभूषण हैं। उनके पास लग्जरी कारें भी हैं। उनके नाम पर कोई देनदारी नहीं है। उनके पति पर करीब 17 करोड़ की देनदारी है। प्रत्याशी के खिलाफ कोई वाद व मुकदमा विचाराधीन नहीं है। पिछले वित्तीय वर्ष में शाह परिवार की ओर से करीब सवा सात करोड़ रुपये का आयकर भुगतान भी किया गया है।

कांग्रेस प्रत्याशी जोत सिंह गुनसोला ने भी अपनी संपत्ति का ब्यौरा प्रस्तुत किया है। उनकी कुल संपत्ति छह करोड़ रुपये के करीब है। इसमें 10 लाख 22 हजार रुपए नगद हैं। तीन करोड़ रुपये के भूमि व मकान और करीब तीन करोड़ रुपये के विरासती संपत्ति है। उन्होंने वर्ष 1973 में मेरठ विश्वविद्यालय से स्नातक किया है। उनके नाम पर कोई भी मुकदमा विचाराधीन नहीं है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Devbhoomi Samachar
Verified by MonsterInsights