ताड़ीखेत में नौ विद्यालयों के भवन जीर्णशीर्ण | Devbhoomi Samachar

ताड़ीखेत में नौ विद्यालयों के भवन जीर्णशीर्ण

ताड़ीखेत में नौ विद्यालयों के भवन जीर्णशीर्ण, पिलखोली विद्यालय का भवन 10 साल से जीर्णशीर्ण हाल में है, उसकी सुध तक नहीं ली गई है।

रानीखेत (अल्मोड़ा)। ताड़ीखेत विकासखंड में प्राथमिक शिक्षा व्यवस्था राम भरोसे है। विकासखंड में लंबे समय से जीर्णशीर्ण विद्यालय भवनों को आज तक ठीक नहीं किया गया है। बच्चों को पंचायत घर या अन्यत्र पढ़ाया जा रहा है। ऐसी स्थिति में कैसे प्राथमिक शिक्षा व्यवस्था पटरी पर आएगी।

प्राथमिक विद्यालय रिखोली का भवन पूरी तरह से जीर्णशीर्ण है। राप्रावि पिलखोली, इजरवा मनारी के विद्यालयों के बच्चों को अन्यत्र शिफ्ट किया गया है। पिलखोली विद्यालय का भवन 10 साल से जीर्णशीर्ण हाल में है, उसकी सुध तक नहीं ली गई है। बैना प्राचीन और पीपलकोट, पीपलटाना विद्यालयों की हाल भी कमोबेश यही है।

विद्यालय भवनों की हालत ठीक नहीं होने से अभिभावक भी बच्चों को सरकारी स्कूलों में प्रवेश दिलाने से कतरा रहे हैं। ताड़ीखेत विकासखंड के कई प्राथमिक विद्यालय भवन जीर्णशीर्ण हैं। प्राथमिक विद्यालय रिखोली में 10 बच्चे अध्ययनरत हैं, यहां 2016 से विद्यालय भवन पंचायत घर में चल रहा है। जिस कारण छात्र संख्या भी नहीं बढ़ पा रही है।

विद्यालय भवन नहीं होने के कारण अभिभावक भी बच्चों को प्रवेश दिलाने में कतरा रहे हैं। राजकीय प्राथमिक विद्यालय पिलखोली में 27 बच्चे अध्ययनरत हैं, यहां भी बच्चों को अन्यत्र पढ़ाया जा रहा है। इजरवा मनारी में 22, बैना प्राचीन में तीन, पीपलकोट सैकुड़ा में छह बच्चे अध्ययनरत हैं। पीपलटाना विद्यालय भवन जीर्ण हालत में है। यहां 19 बच्चे हैं। प्रधानाध्यापक हरीश बिष्ट ने बताया कि कई बार सूचना उच्चाधिकारियों को दी गई, लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

प्राथमिक विद्यालय सलौनी का नया भवन बन रहा है। शीघ्र पूरा हो जाएगा। रिखोली सहित कुछ अन्य विद्यालयों के प्रस्ताव भी गए हैं। इसके अलावा नौ जो अन्य विद्यालय पंचायत भवनों अथवा अन्यत्र संचालित हो रहे हैं, इनका प्रस्ताव शासन को भेजा गया है। स्वीकृति मिलते ही कार्य शुरू होगा।
-एसएस चौहान, खंड शिक्षा अधिकारी ताड़ीखेत

खुलासा : 6 साल से अपने ही भाई को ही डेट कर रही थी महिला


👉 देवभूमि समाचार में इंटरनेट के माध्यम से पत्रकार और लेखकों की लेखनी को समाचार के रूप में जनता के सामने प्रकाशित एवं प्रसारित किया जा रहा है। अपने शब्दों में देवभूमि समाचार से संबंधित अपनी टिप्पणी दें एवं 1, 2, 3, 4, 5 स्टार से रैंकिंग करें।

ताड़ीखेत में नौ विद्यालयों के भवन जीर्णशीर्ण, पिलखोली विद्यालय का भवन 10 साल से जीर्णशीर्ण हाल में है, उसकी सुध तक नहीं ली गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Devbhoomi Samachar
Verified by MonsterInsights