हिमालय बचै लियो

इस समाचार को सुनें...

भुवन बिष्ट

हिमालय कैं मिलजुलिं बचै ल्यो।
अभियान घर घर में पूजै दियो।।
हिमालय हामरीं छूं सदा बणीं शान।
हिमालय बचूंणौक चलिं रौं अभियान।।
पर्यावरण हांम सबूं कैं बचूंण छूं।
स्वच्छता अभियान लैं चलूंण छूं।।
ख्वार मुकुट बणीं रौ ,आओ सजूंलौ हिमालय।
शपथ सब मिलिं बे ल्यो,हांम बचूंलौ हिमालय।।
यौ बात आब सबूंकै बतै दियो….
हिमालय कैं मिलिजुलिं बचै ल्यो।….
जंगल बचै लियो डाव बोटों कै नि काटो।
ठंडी हवा ठंडो पाणी पियो मिलिं बांटो।।
नदियोकौ उद्गम छन पावन हिमालय।
शान हामरिं बणीं छौ के भौल हिमालय।।
जन जन की प्यास कै बुझाछौ हिमालय।
स्वच्छता जरूरी छन बचै लियो हिमालय।।
धरती कैं हरिं – भरिं बणैं दियो।
अभियान घर घर में पूजै दियो।।
हिमालय कैं मिलजुलिं बचै ल्यो।
अभियान घर घर में पूजै दियो।।…….
प्रहरी बणीं हिमालय देशकिं छूं शान।
रक्षा आब करिं ल्यो चलिं रौ अभियान ।।
हिमालय बचूंण आब भौतै यौ जरूरी छूंँ।
बिन यैक जीवन किं आश लै अधूरी छूँं।।
नान ठुल दीदी भुला धात आब लगै लियो।
हिमालय बचूंणौक शपथ सब लिं लियो।।
हिमालय कैं मिलजुलिं बचै ल्यो।
अभियान घर घर में पूजै दियो।।
हिमालय हामरीं सदा बणीं छूं शान।
हिमालय बचूंणक चलिं रौं अभियान.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!