तोड़ा गया शीशे का दरवाजा, बाहर निकलीं 17 लड़कियां, देखें वीडियो

पुलिस ने मारा बार में छापा, 15 घंटे चली तलाशी, सीक्रेट रूम में छिपी 17 लड़कियां

इस समाचार को सुनें...

मुम्बई। कई बार अपने यहां बार गर्ल्स को नचवाते हैं। कम कपड़े पहनकर अश्लील डांस करने वाली इन बार बालाओं को देखने कई मर्द खींचे चले आते हैं। कुछ जगह तो इस डांस की आड़ में जिस्मफरोशी का धंधा भी चलता है। वहीं कोरोना काल में कोविड-19 की गाइडलाइन का उल्लंघन भी किया जाता है।

ऐसे में पुलिस समय-समय पर इन बार में छापा मारती रहती है। मुंबई शहर बार गर्ल्स के लिए काफी फेमस है। बीते शनिवार की रात (11 दिसंबर) मुंबई पुलिस ने अंधेरी में स्थित एक बार में छापा मारा। शुरुआत में पुलिस को बार के अंदर कोई भी बार गर्ल नहीं दिखाई दी।

वह घंटों तक तलाश करती रही। बार में काम करने वाले कर्मचारी भी यही बोलते रहे कि यहां कोई बार गर्ल नहीं है। फिर पुलिस की नजर एक सीक्रेट रूम पर पड़ी। जब इसे खोला गया तो एक के बाद एक इसमें से 17 लड़कियां बाहर निकली।

दरअसल पुलिस की समाज सेवा शाखा के अधिकारी को एनजीओ से शिकायत मिली थी। शिकायत में कहा गया था कि एक बार में कोविड-19 प्रोटोकॉल का उल्लंघन हो रहा है। इस बार में बार बालाओं के चलते भारी भीड़ जमा हो रही है। ग्राहक रोज लाखों रुपए उड़ा देते हैं। बार गर्ल्स की वजह से ये बार रातभर खुला रहता है। स्थानीय पुलिस कोई भी इसकी कोई जानकारी नहीं है।

इस शिकायत के बाद पुलिस ने शनिवार रात को छापेमारी की। हालांकि इस छापे के दौरान उन्हें अंदर कोई भी बार गर्ल नहीं मिली। पुलिस 15 घंटों तक बाथरूम, स्टोरेज रूम, किचन और कई अन्य जगहों पर तलाशी लेती रही, लेकिन उनके हाथ कुछ नहीं लगा। बार के कर्मचारी भी किसी बार गर्ल के होने की बात से इनकार करते रहे।

तलाशी लेते-लेते सुबह हो गई। फिर सेवा शाखा के डीसीपी मौके पर पहुंचे। उनके आते ही रविवार सुबह फिर से तलाशी शुरू हुई। इस दौरान मेकअप रूम में पुलिस को संदिग्ध शीशा मिला। पुलिस समझ गई कि दाल में कुछ काला है। उन्होंने शीशा हथौड़े से तोड़ दिया। इसके पीछे उन्हें एक दरवाजा मिला। इस दरवाजे को रिमोट से कंट्रोल किया जाता था।


¤  प्रकाशन परिचय  ¤

Devbhoomi
From »

साभार


Publisher »
देवभूमि समाचार, देहरादून (उत्तराखण्ड)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!