कविता : यादों की गलियों में

इस समाचार को सुनें...

यादों की गलियों में, कभी रूठना कभी मनाना, अम्मा-बाबू से जिद मनवाना, दिल भूल नहीं पाता है, यादों की गलियों में जब दिल जाता है। खुद खाने से पहले मुझे खिलाना, रूठूं तो पल भर में मनाना, बहराइच, उत्तर प्रदेश से सुनील कुमार की कलम से…

यादों की गलियों में जब दिल ‌जाता है
बहुत कुछ याद आ जाता है।

अम्मा की लोरी दोस्तों संग हंसी-ठिठोली
सब कुछ याद आ जाता है
यादों की गलियों में जब दिल जाता है।

गुड्डा-गुड़ियों संग खेल सुहाने
भूले-बिसरे कुछ गीत पुराने
मन ही मन गुनगुनाता है
यादों की गलियों में जब दिल जाता है।

कभी रूठना कभी मनाना
अम्मा-बाबू से जिद मनवाना
दिल भूल नहीं पाता है
यादों की गलियों में जब दिल जाता है।

खुद खाने से पहले मुझे खिलाना
रूठूं तो पल भर में मनाना
मां का वो प्यार याद आता है
यादों की गलियों में जब दिल जाता है।

एक-दूजे के सुख-दु:ख में काम आना
मिल-जुलकर तीज-त्योहार मनाना
सहज ही याद आ जाता है
यादों की गलियों में जब दिल जाता है।

बंद करता हूं जब भी पलकें
हर मंजर हसीं नजर आता है
बीता हुआ हर इक लम्हा
कभी खुशी-कभी गम दे जाता है
यादों की गलियों में जब दिल जाता है।

बोनसाई


👉 देवभूमि समाचार में इंटरनेट के माध्यम से पत्रकार और लेखकों की लेखनी को समाचार के रूप में जनता के सामने प्रकाशित एवं प्रसारित किया जा रहा है। अपने शब्दों में देवभूमि समाचार से संबंधित अपनी टिप्पणी दें एवं 1, 2, 3, 4, 5 स्टार से रैंकिंग करें।

यादों की गलियों में, कभी रूठना कभी मनाना, अम्मा-बाबू से जिद मनवाना, दिल भूल नहीं पाता है, यादों की गलियों में जब दिल जाता है। खुद खाने से पहले मुझे खिलाना, रूठूं तो पल भर में मनाना, बहराइच, उत्तर प्रदेश से सुनील कुमार की कलम से...

कविता : पत्थर

देवभूमि समाचार की टीम के द्वारा देश-प्रदेश की सूचना और जानकारियों का भी प्रसारण किया जाता है, जिससे कि नई-नई जानकारियां और सूचनाओं से पाठकों को लाभ मिले। देवभूमि समाचार समाचार पोर्टल में हर प्रकार के फीचरों का प्रकाशन किया जाता है। जिसमें महिला, पुरूष, टैक्नोलॉजी, व्यवसाय, जॉब अलर्ट और धर्म-कर्म और त्यौहारों से संबंधित आलेख भी प्रकाशित किये जाते हैं।

खुली दूल्हे की पोल : कानाफूसी ने बिगाड़ा प्रेमी-प्रेमिका का खेल

देश-विदेश और प्रदेशों के प्रमुख पयर्टक और धार्मिक स्थलों से संबंधित समाचार और आलेखों के प्रकाशन से पाठकों के समक्ष जानकारी का आदान-प्रदान किया जाता है। पाठकों के मनोरंजन के लिए बॉलीवुड के चटपटे मसाले और साहित्यकारों की ज्ञान चासनी में साहित्य की जलेबी भी देवभूमि समाचार समाचार पोर्टल में प्रकाशन के फलस्वरूप परोसी जाती है।

नैनीताल : स्कूल बस की टक्कर से सैन्य कर्मी की गई जान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Devbhoomi Samachar