लखनऊ में फोटो जर्नलिस्ट पर जानलेवा हमला, ताबड़तोड़ फायरिंग

इस समाचार को सुनें...

लखनऊ में फोटो जर्नलिस्ट पर जानलेवा हमला, ताबड़तोड़ फायरिंग, अस्पताल में भर्ती करवाया, जहां उसका इलाज जारी है. डॉक्टरों ने बताया कि युवक की हालत गंभीर बनी हुई है.

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के लखनऊ में बदमाशों के हौसले इतने बुलंद हो गए हैं कि उन्होंने सरेआम युवक पर फायरिंग कर दी. गंभीर रूप से घायल युवक को तुरंत अस्पताल पहुंचाया गया, जहां उसका इलाज जारी है. मामला इंदिरा नगर का है. जानकारी के मुताबिक, पीड़ित युवक लोकल न्यूजपेपर में बतौर फोटोग्राफर काम करता है. साथ ही वह फर्निचर व्यापारी भी है.

डीसीपी नॉर्थ जोन कासिम अब्दी ने बताया कि पीड़ित युवक कैलाश कुंज लक्ष्मणपुरी का रहने वाला है. युवक सोमवार देर रात एक महिला को उसके घर छोड़कर इंदिरा नगर के पिकनिक स्पॉट की तरफ जा रहा था. तभी रास्ते में घात लगाकर बैठे कुछ बदमाशों ने उस पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी. फिर वहां से फरार हो गए. पीड़ित के सीने, गले और पीठ में तीन गोलियां लगी हैं. मौके पर मौजूद लोगों ने इसकी सूचना तुरंत पुलिस को दी.

पुलिस की टीम ने घटनास्थल पर पहुंचकर घायल युवक को लोहिया अस्पताल में भर्ती करवाया, जहां उसका इलाज जारी है. डॉक्टरों ने बताया कि युवक की हालत गंभीर बनी हुई है. उधर, पुलिस ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ मामला दर्ज करके उनकी तलाश शुरू कर दी है. साथ ही घटनास्थल के पास लगे सीसीटीवी फुटेज को भी खंगाला जा रहा है. इससे पहले प्रतापगढ़ के पचमहुआ गांव में शुक्रवार की रात निमंत्रण से घर लौट रहे किसान महेश पाल उर्फ मैकूलाल की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी.

घटना को अंजाम देने के बाद बदमाश भाग निकले. पुलिस ने मृतक के भाई व भतीजे को हिरासत में लिया है. जानकारी के मुताबिक, पचमहुआ सोतीकपुरवा गांव निवासी महेश पाल उर्फ मैकूलाल (58) शुक्रवार की शाम साइकिल से डीह गांव में रमेश पाल के यहां निमंत्रण में शामिल होने गया था. देर रात वह घर लौट रहा था. घर से कुछ दूर नहर के पास बदमाशों ने गोली मारकर उसकी हत्या कर दी. फिर शव नहर के करीब खेत में ही छोड़कर बदमाश भाग निकले.

मैकूलाल के घर न पहुंचने पर परिजन रात में उसकी तलाश करने निकले. नहर के करीब शव देख परिजन रोने बिलखने लगे. गांव के लोग शव लेकर घर आए. जहां लोगों ने मैकूलाल की कनपटी व सीने में गोली लगी देखी. सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस परिजनों से पूछताछ के बाद बदमाशों की तलाश करने में जुट गई. मगर उनका सुराग नहीं लगा. मैकू की बेटी कंचन पाल एवं रंजना पाल ने अपने चाचा व चचेरे भाई पर हत्या का आरोप लगाया. जिसके बाद पुलिस ने सूरजदीन व सोनू पाल को हिरासत में ले लिया.

श्रद्धा हत्याकाण्ड : 2 नहीं 4 नंबर यूज कर रहा था शातिर आफताब


👉 देवभूमि समाचार में इंटरनेट के माध्यम से पत्रकार और लेखकों की लेखनी को समाचार के रूप में जनता के सामने प्रकाशित एवं प्रसारित किया जा रहा है। अपने शब्दों में देवभूमि समाचार से संबंधित अपनी टिप्पणी दें एवं 1, 2, 3, 4, 5 स्टार से रैंकिंग करें।

लखनऊ में फोटो जर्नलिस्ट पर जानलेवा हमला, ताबड़तोड़ फायरिंग, अस्पताल में भर्ती करवाया, जहां उसका इलाज जारी है. डॉक्टरों ने बताया कि युवक की हालत गंभीर बनी हुई है.

श्रद्धा हत्याकांड: आफताब को देहरादून ला सकती है पुलिस

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Devbhoomi Samachar