डोली उठने के 5 महीने बाद ही निकली सोनी की अर्थी

इस समाचार को सुनें...

गोपालगंज। बिहार में फिर एक बेटी दहेज की बलि चढ़ गयी. दहेज के दानवों ने पैसे के लिए बेटी का गला घोंट दिया. चार माह की गर्भवती महिला की हत्या से परिजनों में कोहराम मचा है. घटना गोपालगंज के नगर थाना क्षेत्र के कोन्हवा गांव की है. मृतक महिला का नाम सोनी देवी है, जिसकी शादी महज पांच महीने पहले 9 मई 2022 को हुई थी.

कोन्हवा गांव निवासी राधेश्याम साह के पुत्र बिजेंद्र साह के साथ जब सोनी की शादी हुई थी तो किसी ने सोचा भी नहीं था कि महज पांच महीने बाद ही उसकी हत्या कर दी जाएगी. पुलिस ने हत्या के बाद आरोपी सास तीजा देवी को गिरफ्तार कर लिया है. वहीं मृतका के पति समेत बाकी के सभी आरोपी घर छोड़कर फरार हैं.

बेटी की हत्या से मृतका की मां और बहन सदर अस्पताल में रो-रोकर बेहोश हो जा रहे थे. सोनी देवी की लाचार मां ने बताया कि दहेज के दानवों ने चंद पैसों की खातिर मेरी बेटी की बेरहमी से पिटाई की फिर रस्सी से गला दबाकर हत्या कर दी. वारदात के बाद सोनी के पति ने ससुराल के लोगों को फोन पर खबर दी, उसके बाद सभी फरार हो गए.

गोपालगंज के जादोपुर थाने के बाबू विशुनपुर गांव निवासी दूधनाथ साह की पुत्री सोनी देवी की शादी 9 मई 2022 को नगर थाने के कोन्हवा गांव निवासी राधेश्याम साह के पुत्र बिजेंद्र साह के साथ हुई थी. परिवार ने हैसियत के मुताबिक सामान और शादी की खर्च के लिए नगद पैसे भी दिया था, लेकिन दहेज रूपी दानवों ने दहेज की डेढ़ लाख और नगद की मांग को लेकर प्रताड़ित करने का सिलसिला शुरू कर दिया.

परिवार के लोगों का आरोप है कि सोनी को मायके बात करने के लिए दिया गया मोबाइल फोन तक छिनकर रख लिया गया था. 4 अक्टूबर की रात के 12 बजे सोनी के पति बिजेंद्र साह ने ससुराल फोन कर हत्या की खबर दी. उसके बाद सभी फरार हो गए. घटना की जानकारी मिलने पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर आरोपी सास तीजा देवी को गिरफ्तार कर लिया है. सदर एसडीपीओ संजीव कुमार ने कहा कि पुलिस हत्या की प्राथमिकी दर्ज कर आरोपियों के विरुद्ध गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Devbhoomi Samachar