नयन सजल देखा

इस समाचार को सुनें...

आशीष तिवारी निर्मल

पल-पल देखा प्रतिपल देखा
तुझमे न कोई छल देखा।

मन व्याकुल सा हो उठता मेरा
तुझसे दूरी का प्रतिफल देखा।

यह वाणी विवश अमूक मेरी
तत्क्षण नयन सजल देखा ।

👉 देवभूमि समाचार के साथ सोशल मीडिया से जुड़े…

WhatsApp Group ::::
https://chat.whatsapp.com/La4ouNI66Gr0xicK6lsWWO

FacebookPage ::::
https://www.facebook.com/devbhoomisamacharofficialpage/

Linkedin ::::
https://www.linkedin.com/in/devbhoomisamachar/

Twitter ::::
https://twitter.com/devsamachar

YouTube ::::
https://www.youtube.com/channel/UCBtXbMgqdFOSQHizncrB87A

आना है तो आज ही आओ
कहाँ किसी ने कल देखा ?

हे प्राणप्रिये ! कुछ तो बोलो
तुमसा नही चपल देखा॥


¤  प्रकाशन परिचय  ¤

Devbhoomi
From »

आशीष तिवारी निर्मल

कवि, लेखक एवं पत्रकार

Address »
मकान नंबर 702 लालगाँव, जिला रीवा (मध्य प्रदेश) | Mob : 8602929616

Publisher »
देवभूमि समाचार, देहरादून (उत्तराखण्ड)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!