बड़ी खुशी होती है बच्चों का हर क्षेत्र में आगे आना : सत्येंद्र कुमार

श्रेया, नैंसी, शिल्पी और आदिति उपाध्याय के ग्रुप ने एनएसएस द्वारा नशा मुक्ति भारत अभियान रंगोली प्रतियोगिता में मारी बाजी

इस समाचार को सुनें...

अशोक शर्मा

गया, बिहार। गया महाविद्यालय गया में एनएसएस स्वयंसेवकों के द्वारा नशा मुक्ति भारत अभियान के तहत रंगोली प्रतियोगिता आयोजित किया गया जिसमें प्रधानाचार्य दीपक कुमार, कार्यक्रम पदाधिकारी सत्येंद्र कुमार, जिला सामाजिक सुरक्षा कल्याण पदाधिकारी दिबेश कुमार, एमबीए इंचार्ज रवि कुमार, अमित कुमार, के नारायण, उप प्राचार्य डॉक्टर ब्रज भूषण सर आदि उपस्थित थे। उन्ही के मत के आधार पर प्रतिभागियों का चुनाव किया गया।

प्राचार्य के छात्रों का हौसला अफजाई करते हुए कहा कि ये अपने आप गौरव की बात है कि एनएसएस जैसे संगठन से जुड़ के गया कॉलेज के बच्चे बहुत बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं और ग्रुप लीडर विशाल राज के नेतृत्व में इस तरह की गतिविधियों को आगे भी निरंतर करते रहने का निर्देश दिया। कार्यक्रम पदाधिकारी सत्येंद्र कुमार ने कहा कि उन्हें बड़ी खुशी होती है बच्चों का हर क्षेत्र में आगे आना।

इस कार्यक्रम का नेतृत्व कर रहे एनएसएस ग्रुप लीडर विशाल राज ने बताया कि किस प्रकार पिछले कुछ दिनों से नशा मुक्ति भारत अभियान के तहत एनएसएस स्वयंसेवकों के द्वारा नियमित रूप से कार्य किया जा रहा है जिसमें आज की रंगोली प्रतियोगिता भी शामिल है और बच्चों ने काफी मेहनत और लगन से इसमें भाग लिया और सफल हुए जिन्हें की ट्राफी और मेडल से सम्मानित किया गया।

ग्रुप 2 की श्रेया, तनुजा भारती,बिल्कुइस फ़रखन्दा,वसीमा फ़र्ज़ीन को प्रथम, ग्रुप 18 की हेमया कुमारी,नैंसी मेहता,अमन वर्मा,राहुल रंजन को द्वितीय,ग्रुप 5 और 7 कि आकांक्षा शर्मा, शिल्पी, रवीना, श्रुति, एकता, प्राची, श्रेया को तृतीय एवम ग्रुप 17 और 8 की आदिति उपाध्याय, शुभांगी सिन्हा,काजल कुमारी,सुष्मा वर्मा,आस्था मिश्रा और मानसी कुमारी को सांत्वना पुरस्कार से सम्मानित किया गया। साथ ही साथ एनएसएस ग्रुप लीडर विशाल राज के साथ वरिष्ठ स्वयंसेवक अनुराग कुमार, शिवा श्री नैंसी,ट्विंकल कुमारी,शिल्पी,कुसुम,दीपक कुमार,विकाश यादव,विवेक, मोहमद इस्तियाक,विनायक, नीलू,अनु,सपना सिंह,सानी,शालिनी,चंचल, सोनम आदि अन्य स्वयंसेवकों ने इस कार्यक्रम में अपनी भागीदारी निभाई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!