पदवृद्धि की मांग को लेकर बीएड प्रशिक्षितों में भारी आक्रोश

रिक्त पदों का आंकड़ा मिलने पर ही शासन को प्रस्ताव भेजने का आश्वासन...

इस समाचार को सुनें...

(देवभूमि समाचार)

देहरादून। शिक्षा निदेशालय देहरादून में बीएड टीईटी प्रशिक्षितों का धरना आज दिनांक 8 सितम्बर को भी जारी रहा। प्रदेश के विभिन्न जनपदों से अपनी एक सूत्रीय मांग को लेकर अनेक बीएड प्रशिक्षितों ने आज महासंघ के धरने में अपनी उपस्थितों दर्ज करायी। आज बीएड टीईटी प्रशिक्षित महासंघ के प्रतिनिधि मंडल ने निदेशक प्रारंभिक शिक्षा आरके उनियाल जी से वर्तमान में गतिमान प्राथमिक शिक्षक भर्ती में पदवृद्धि हेतु शासन को प्रस्ताव भेजने में हो रहे बिलम्ब को लेकर मुलाकात की। जिसमे माननीय निदेशक महोदय ने बताया कि रिक्त पदों का आंकड़ा जिला शिक्षा अधिकारियों द्वारा अभी तक उपलब्ध ना होने के कारण समय लग रहा है। माननीय निदेशक महोदय जी ने आगामी दो दिनों में रिक्त पदों का आंकड़ा मिलने पर ही शासन को प्रस्ताव भेजने का आश्वासन दिया गया।

रीना कोहली ने कहा कि अनेक महिलाएं दूर दराज जनपदों से इस आशा के साथ पंहुची है कि सरकार गतिमान शिक्षक भर्ती में 31 मार्च 2022 तक के समस्त रिक्त पदों को शामिल करेगी मगर ऐसा कुछ होते हुए प्रतीत नही हो रहा है.

बीएड टीईटी प्रशिक्षित महासंघ की प्रदेश महिला अध्यक्षा विजय लक्ष्मी ने अपने संबोधन में कहा कि यदि निदेशालय से पदवृद्धि का प्रस्ताव कल तक शासन में नही भेजा जाता है तो हमे मजबूरन उग्र आंदोलन करना पड़ेगा। जिसकी सम्पूर्ण जिमेदारी शासन तथा प्रशासन की होगी । उत्तरकाशी के सीमांत गांव से आंदोलन में प्रतिभाग करने पंहुचे हरि थपलियाल तथा नरेश डोभाल ने कहा कि विभागीय अधिकारियों तथा माननीय शिक्षामंत्री जी के साथ महासंघ के प्रतिनिधि मंडल की संयुक्त बैठक में माननीय शिक्षा मंत्री जी ने अधिकारियों को निर्देशित किया था कि आगामी दो दिनों में 31 मार्च 2022 तक के समस्त रिक्त पदों का ब्यौरा सरकार को उपलब्ध कराया जाय तथा रिक्त पदों का प्रस्ताव शासन को भेजा जाय। मगर विगत एक सप्ताह बीतने के बाद भी अभी तक शासन तथा प्रशासन स्तर पर पदवृद्धि के लिए कोई ठोस कार्यवाही होते हुए नही दिख रही है, जिसके कारण बीएड प्रशिक्षितों में भारी आक्रोश है।

देहरादून आंदोलन में सीमांत जनपद चमोली से पंहुची रीना कोहली ने कहा कि अनेक महिलाएं दूर-दराज जनपदों से इस आशा के साथ पंहुची है कि सरकार गतिमान शिक्षक भर्ती में 31 मार्च 2022 तक के समस्त रिक्त पदों को शामिल करेगी। मगर ऐसा कुछ होते हुए प्रतीत नही हो रहा है, जिससे प्रदेश के विभिन्न जनपदों से पंहुची सभी महिला प्रशिक्षितों ने आगामी दो दिन बाद से रात्रि धरने में भी महासंघ के साथ अपनी सहभागिता देने का निर्णय लिया है । आज महासंघ के धरने में नरेंद्र तोमर राजीव राणा बलबीर बिष्ट अरविन्द राणा प्रमोद राज शाह राजेन्द्र चौहान गणेश ओमप्रकाश दिनेश नवल प्रीति उर्मिला शाह सुनीता संगीता आदि अनेक प्रशिक्षित उपस्थित थे।

बीएड टीईटी प्रशिक्षित महासंघ की प्रदेश महिला अध्यक्षा विजय लक्ष्मी ने अपने संबोधन में कहा कि यदि निदेशालय से पदवृद्धि का प्रस्ताव कल तक शासन में नही भेजा जाता है तो हमे मजबूरन उग्र आंदोलन करना पड़ेगा.

News From Arvind Rana, Dehradun (Uttarakhand)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Devbhoomi Samachar