“भारत को जाने” कार्यक्रम अपार लोकप्रियता के साथ सम्पन्न

अद्भुत व एतिहासिक आयोजन : डॉ शम्भू पंवार

इस समाचार को सुनें...

(देवभूमि समाचार)

नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय काव्य प्रेमी मंच तंजानिया द्वारा 23 अक्टूबर से चल रहे “भारत को जाने” अप्रितम महाकाव्य अनुष्ठान 37 वे दिन अपार लोकप्रियता के साथ संपन्न हुआ। समापन समारोह के मुख्य अतिथि हिंदी सिनेमा के अभिनेता अखिलेंद्र मिश्रा ने कहा कि डॉ. ममता सैनी जी ने यह साहित्यिक महायज्ञ का आयोजन किया ,यह कार्यक्रम इतिहास के पन्नो में दर्ज रहेगा।

धराधाम इंटरनेशनल के धरा गवर्नर एवं अंतरराष्ट्रीय जर्नलिस्ट, लेखक-डॉ शम्भू पंवार ने कहा कि अंतराष्ट्रीय काव्य प्रेमी मंच की संस्थापिका डॉ ममता सैनी विदेश में रहते हुवे अपनी मातृभूमि के प्रति इतना लगाव,श्रद्धा देख कर अभिभूत हु।इन्होंने भारतीय लोक कला और संस्कृति का वर्णन दोहो और चौपाइयों के जरिये बहुत ही खूबसूरत तरीके से किया है जो एक मिशाल बन गया है।

कार्यक्रम संयोजिका डॉ. ममता सैनी ने कहा कि यह आयोजन जीवन का एक अलग अनुभव है जो जीवन भर एक खुशी देता रहेगा तथा भविष्य के आयोजनों में प्रेरणा बनेगा उंन्होने सभी सहयोगियों का आभार व्यक्त करते हुये कहा इस आयोजन में प्रत्यक्ष या अप्रत्क्ष रूप से जुड़ा हर व्यक्ति इस सफलता में हमारा सहभागी है।

वरिष्ठ सहयोगी सारिका फ्लोर ने कहा कि मुझे खुशी इस बात की है कि हम इस आयोजन में कुछ न कुछ सहयोग कर पाये यह हमारा सौभाग्य है।काव्य मंच के मार्गदर्शक अजय गोयल ने कहा कि इस कार्यक्रम से जुड़ा हर व्यक्ति खुद को सौभाग्य शाली समझता है कि हम देश के लिये कुछ समर्पित कर पाये डॉ. ममता सैनी के पति सीए. राकेश सैनी ने कहा कि ममता जी के संकल्प और समर्पण को मैं सैल्युट करता हूं।

डॉ. अंजलि बजाज भारत को याद करके भावुक हो उठी। विनीता श्रीवास्तव , अब्दुल आरिफ खान, रुखसार खान, विक्की प्रसाद, डॉ. शिप्रा शिल्पी, डॉ. मीनू पाराशर, डॉ. श्वेता सिन्हा, समीर मूसा, ने कार्यक्रम में शामिल हो अपने भाव व्यक्त किए।

उल्लेखनीय है कि इस अलौकिक कार्यक्रम में भारत देश के 28 राज्यों और 8 केंद्र शासित प्रदेशों की महिमा,लोक कला सँस्कृति का दोहों ,चौपाइयों और गीतों के माध्यम से 278 रचनाकारों ने बहुत ही सुंदर तरीके से भारत का गुणगान किया गया। रोज 3 घण्टे ऑनलाइन कार्यक्रम चला जिसे विश्व भर में लाखों लोगों ने देखा और खूब सराहा।

50 से अधिक देशों के 500 से अधिक कवि, गीतकार,गायक,लेखको ने इस कार्यक्रम को भव्यता प्रदान की। यह आयोजन विश्व रिकार्ड में भी दर्ज होगा। इस आयोजन का शुभारंभ पद्मश्री अनूप जलोटा जी ने किया ।शानदार सन्चालन सीए अजय गोयल व जितेन्द्र भारद्वाज ने किया।


¤  प्रकाशन परिचय  ¤

Devbhoomi
From »

डॉ शम्भू पंवार

वरिष्ठ पत्रकार,लेखक-विचारक, नई दिल्ली

Publisher »
देवभूमि समाचार, देहरादून (उत्तराखण्ड)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!