श्री बीएम जैन स्कूल नालागढ़ में विश्व शिक्षक दिवस पर संगोष्ठी

इस समाचार को सुनें...

(देवभूमि समाचार)

नालागढ़ (सोलन) हिमाचल प्रदेश। 5 अक्टूबर को विश्व शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है संयुक्त राष्ट्र द्वारा 1966 में विश्व शिक्षक दिवस मनाना शुरू किया था जो आज विश्व के 100 से अधिक देशों में मनाया जा रहा है। यधपि अलग-अलग देशों में शिक्षक दिवस अलग -अलग तिथियों को मनाया जाता है ।

जैसे भारत में शिक्षक दिवस 5 सितंबर को भूतपूर्व राष्ट्रपति सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिन को मनाया जाता है ।अन्य देशों के शिक्षक दिवस भी अलग-अलग तिथियों को मनाए जाते हैं लेकिन विश्व स्तर पर विश्व शिक्षक दिवस 5 अक्टूबर को मनाया जाता है और विश्व स्तर पर शिक्षक जो समाज और विश्व स्तरीय समाज को अपने योगदान से लाभान्वित कर रहे हैं उनका आभार व्यक्त किया जाता है ।और अध्यापकों को शिक्षा के क्षेत्र में विशेष योगदान के लिए सम्मानित किया जाता है।

इस अवसर पर श्री बी एम जैन स्कूल में शिक्षक कार्यशाला के अंतर्गत जिसमें एक शिक्षक के क्या-क्या कर्तव्य होते हैं। एक शिक्षक किस प्रकार समाज की रीढ़ की हड्डी को मजबूत कर सकता है। वर्तमान समय में शिक्षक के सामने कौन-कौन सी समस्याएं हैं इन मुद्दों पर विचार विमर्श किया गया।

इस अवसर पर स्कूल के प्रधान आदरणीय श्री रमेश जैन जी ,सेक्रेटरी श्री कुलदीप जैन जी, मुख्य -अध्यापिका श्रीमती प्रीति शर्मा जी और अध्यापक -गण श्रीमती कुसुम शर्मा, श्रीमती संगीता खुल्लर ,श्रीमती बलबीर ,श्रीमती बबीता शर्मा ,श्रीमती रेखा देवी, श्रीमती नविता जैन, श्रीमती कल्पना ,श्रीमती रेखा मोहन ,सारिका जी , श्री हरदयाल सिंह सिंह जी उपस्थित थे ।शिक्षकों के बेहतर कार्यों की सराहना करते हुए उन्हें प्रोत्साहन पुरस्कार प्रधान किए। स्कूल की मुख्य अध्यापिका श्रीमती प्रीति शर्मा जी ने विश्व शिक्षक दिवस पर संदेश देते हुए कहा ” शिक्षक एक देश का नहीं अपितु संपूर्ण विश्व का विकास करने का आधार रूप होता है”।

News Source : Preeti Sharma Aseem (aditichin***@gmail.com)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Devbhoomi Samachar