फोगाट परिवार की तहरीर में संगीन आरोप

इस समाचार को सुनें...

दिल्ली। टिकटॉक स्टार और बीजेपी नेता सोनाली फोगाट की मौत को लेकर तमाम तरह के सवाल उठ रहे हैं. उनकी मौत के पीछे साजिश की बू आ रही है. साजिश इसलिए कि सोनाली के घरवालों ने जो तहरीर गोवा के पुलिस थाने में दी है. उसमें कई तरह के संगीन इल्जाम दो लोगों पर लगाए गए हैं. तहरीर में सोनाली के यौन शोषण और उनकी संपत्ति पर कब्जा करने जैसे आरोप इस मामले को पेचीदा बना रहे हैं.

सोनाली की मौत के बाद उनके परिवार के लोग भी गोवा पहुंच गए. जहां बुधवार को सोनाली फोगाट के भाई रिन्कु ढ़ाका ने अंजुना थाने के एसएचओ को संबोधित 4 पेज की तहरीर दी है. जिसमें उन्होंने पहले अपने परिवार के बारे में बताया और फिर सोनाली के पीए सुधीर सांगवान और उसके साथी सुखविंदर पर गंभीर आरोप लगाए हैं.

अंजुना पुलिस को दी गई तहरीर में रिन्कु ने लिखा है कि जब 2019 में सोनाली आदमपुर विधान सभा से बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ रही थी. तब कार्यकर्ता के तौर पर सुधीर सांगवान और सुखविंदर उनके पास आए थे. इसके बाद सुधीर ने सोनाली के पीए के तौर पर काम करना शुरू कर दिया. सोनाली सुधीर और सुखविंदर पर भरोसा करने लगी थी.

जब सुधीर पीए के तौर पर काम करने लगा, तो उसके कुछ समय बाद ही उसने सोनाली के घर में काम करने वाले कुक और नौकरों को हटा दिया था. वो खुद सोनाली के लिए खाने का इंतजाम करता था. रिन्कु ने तहरीर में लिखा कि 3 माह पहले उसके पास सोनाली का फोन आया था, उसने बताया कि सुधीर ने उसे खाने के लिए खीर दी थी. जिसे खाने के बाद उसके हाथ पैर कांपने लगे और वो काम नहीं कर रहे थे. जब इस बारे में उसने सुधीर से पूछा तो उसने गोल माल जवाब दिया.

तहरीर के अनुसार, सोनाली अपना सारा लेन-देन, कागजी कार्रवाई पीए के होने के नाते सुधीर के माध्यम से ही करती थी. वो सुधीर के लाए किसी भी कागजात को पढ़े बिना ही साइन कर दिया करती थी. रिन्कु तहरीर में आगे लिखते हैं कि 22 अगस्त 2022 की शाम उनकी बहन सोनाली फोगाट ने उनके छोटे जीजा अमन पूनियां को फोन किया और बताया कि सुधीर ने उसे खाने में कुछ मिलाकर दिया है. जिसकी वजह से उनके शरीर में बैचेनी और घबराहट हो रही है. सोनाली ने अमन से कहा कि 2021 में संतनगर हिसार में उनके घर जो चोरी हुई थी, वो सुधीर ने अपने दोस्त के साथ मिलकर की थी. इस बारे में वो हिसार लौटकर पुलिस को बताएंगी और सुधीर को कड़ी सजा दिलाएंगी.

तहरीर के मुताबिक, सोनाली ने अपने जीजा अमन को बताया कि 3 साल पहले सुधीर सांगवान ने उनके घर पर खाने में नशीला पदार्थ मिला दिया था और फिर सोनाली के साथ कई बार दुष्कर्म किया था. इस दौरान उसने एक अश्लील वीडियो भी बना लिया था. जिसे वायरल करने की धमकी देकर वो सोनाली को ब्लैकमेल कर रहा था. वो सोनाली से अपने कहे अनुसार काम कराता था. उसी वीडियो को वायरल करने की धमकी देकर सुधीर सांगवान सोनाली के साथ दुष्कर्म करता था. और किसी को कुछ भी बताने पर वीडियो वायरल कर सोनाली का फिल्मी और राजनीतिक करीयर खत्म करने की धमकी देता था.

सुधीर सांगवान के दबाव में ही सोनाली फोगाट ने अपने परिवार और दोस्तों से बातचीत करना बंद कर दिया था. यहां तक कि सोनाली के दोनों फोन, प्रॉपर्टी के कागजात, एटीएम कार्ड और घर की सारी चाबियां भी सुधीर सांगवान अपने पास रखता था. इसके बाद सोनाली ने फोन पर अपने जीजा अमन से कहा कि सुधीर और सुखविंदर उसके साथ कुछ भी गलत कर सकते हैं और फिर अचानक फोन कट गया.

रिन्कु ने आगे लिखा है कि उसी रात सोनाली ने मां से बात की थी. उसने मां से कहा था कि सुधीर ने उसे खाना खिलाया और उसके बाद शरीर में बैचेनी और घबराहट हो रही है. शरीर में कमजोरी बढ़ती जा रही है. फिर सोनाली का फोन अचानक कट गया. तहरीर में लिखा है कि फिर 23 अगस्त 2022 की सुबह करीब साढ़े 8 बजे उनके बड़े भाई वतन के पास सुधीर सांगवान का फोन आया कि आपकी बहन सोनाली फोगाट की शूटिंग के दौरान मौत हो गई. ये सूचना पाकर वे अपने परिवार के सदस्यों के साथ गोवा पहुंचे और उन्होंने अपने स्तर पर पता किया तो ना तो वहां कोई शूटिंग थी और ना ही पहले से शूटिंग का कोई प्रोग्राम था.

रिन्कु ने तहरीर के आखिर में लिखा कि उनकी बहन ने उन्हें चंडीगढ़ में रुकने का प्रोग्राम बताया था. सुधीर सांगवान और सुखविंदर ने मिलकर उनकी बहन सोनाली फोगाट की हत्या उसकी संपत्ति हड़पने और राजनीतिक षडयंत्र के तहत की है. इस हत्या में सुधीर और सुखविंदर के अलावा भी कई लोग शामिल हैं. सुधीर, सुखविंदर और अन्य लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करके सख्त से सख्त सजा दिलाई जाए.

तहरीर के अंत में प्रार्थी के तौर पर रिन्कु ने अंग्रेजी में साइन किए हैं और हिंदी में अपना फतेहाबाद का पूरा पता, मोबाइल नंबर लिखा है. इसी तहरीर के आधार पर अब गोवा पुलिस जांच कर रही है. हालांकि सोनाली के फेसबुक प्रोफाइल से लाइव कर उसके भाई ने इस मामले में अभी तक कोई कार्रवाई नहीं किए जाने का आरोप भी लगाया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!