प्रवासी भामाशाह गांव-गांव कर रहे हैं पशुओं की मदद

इस समाचार को सुनें...

जालौर (विलक्षण)। गौवंश में फैल रही लम्पी स्किन डिजीज से बचाने के प्रयासों को युद्धस्तर पर अभियान के रूप मे संचालित किया जा रहा है। एक मोटे तौर पर भामाशाहों का योगदान देखने को मिल रहा है। केदारेश्वर गौ आश्रम चौरा में सोडियम हाइपोक्लोराइट व फिनाइल से छिड़काव करवाया किया गया वहीं गोसेवा समिति द्वारा संक्रमण को रोकने के लिए आइसोलेशन वार्ड बनाए गए हैं।

बीमार गोवंश की सेवा के लिए समर्पित संस्था गोसेवा समिति चौरा द्वारा अलग- अलग जगह तीन आइसोलेशन वार्ड स्थापित किए हैं। बेसहारा संक्रमित गोवंश का इलाज चल रहा है। समिति के हेमराज चौधरी ने बताया गौ आश्रम के परिसर में अलग से साण्डशाला में आइसोलेशन वार्ड संचालित किए जा रहे हैं।



पशुओं में फैल रहे लम्पी चर्म रोग की रोकथाम के लिए प्रवासी गौ माता मित्र मंडल 36 कॉम मुंबई की ओर से हर संभव प्रयास किया जा रहा है प्रवासी गौ भक्त शंकर चौधरी जोधवास,पृथ्वी जैन सांचौर,जयंती लाल गांधी झाब, प्रदीप जी नेनवा,प्रभु जी चौधरी भादरुणा,अमृत जी बाड़मेर, मोहन जी कारोला,अनिल माहेश्वरी बाड़मेर,रमेश कुमार अरणाय और ओम जी आंजणा गांव-गांव जाकर फोगिंग मशीन यह दुआएं से मच्छर भगाने के लिए काम आती है

दूसरी मशीन इस स्प्रे द्वारा दवाइयों का छिड़काव करने के लिए साथ ही मीठा गुड़ व बाजरी व भामाशाहों के आर्थिक सहयोग से दवाइयों की व्यवस्था की जा रही है। हड़मत सिंह ने कहा कि पशु प्रेमियों की मदद से संक्रमण रहित पशुओं में टीकाकरण का कार्य भी जारी है। उम्मेद सिंह ने बताया पूरी गंभीरता एवं संवेदनशीलता के साथ पशुओं में फैल रहे इस रोग पर नियंत्रण पाने के लिए कार्य कर रहे है।



धीरे धीरे सामान्य स्थिति हो जायेगी। इस मौके पर तिकमा राम जेसीबी वाला,भावा राम चौधरी,रुगा राम,नाराणा राम,सांवला राम,नरेश देवासी,ईश्वर गर्ग,पेमा राम बिश्नोई,डूंगरा राम,लसा राम,चमना राम सहित सैकड़ों लोग मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!