दस लाख का इनामी नक्सली अभिजीत यादव को किया गया गिरफ्तार

इस समाचार को सुनें...

दस लाख का इनामी नक्सली अभिजीत यादव को किया गया गिरफ्तार, यह बिहार-झारखंड को मिलाकर 10.50 लाख का इनामी माओवादी है। इसने बड़ी घटना के रूप में वर्ष 2016 में औरंगाबाद में हमला कर सात सुरक्षाबलों को शहीद कर दिया था। पढ़ें गया, बिहार से अर्जुन केशरी की रिपोर्ट…

गया, बिहार। कई साल से पुलिस की गिरफ्तारी के भय से फरार चल रहे प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा माओवादी के जोनल कमांडर अभिजीत यादव और उसके सहयोगी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार अभिजीत पर 10.5 लाख का इनाम था। जिसकी तलाश बिहार और झारखंड की पुलिस को वर्षों से थी।

नक्सली के पास से AK-56 और 97 राउंड गोलियां भी बरामद हुई है। एसएसपी हरप्रीत कौर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा माओवादी के जोनल कमांडर अभिजीत यादव उर्फ बनवारी समेत दो नक्सलियों की गिरफ्तारी की गई है। इसके पास से एके 56, 97 जिंदा कारतूस, डेटोनेटर सहित कई प्रतिबंधित सामग्री बरामदगी हुई है।

यह बिहार-झारखंड को मिलाकर 10.50 लाख का इनामी माओवादी है। इसने बड़ी घटना के रूप में वर्ष 2016 में औरंगाबाद में हमला कर सात सुरक्षाबलों को शहीद कर दिया था।

एसएसपी हरप्रीत कौर ने बताया कि एसएसबी 29 बटालियन कमांडेंट एचके गुप्ता, असिस्टेंट कमांडेंट अमोद कुमार,रामवीर कुमार सहित कई पुलिस और पारा मिलिट्री के अधिकारियों नेतृत्व में गया पुलिस और सुरक्षाबलों की विशेष टीम बनाई गई थी, जिसके बाद धनगाई थाना अंतर्गत दुआरी के जंगल में सघन सर्च ऑपरेशन चलाया गया। इसके बाद इनामी माओवादी जोनल कमांडर अभिजीत यादव की गिरफ्तारी की गई।

देखें वीडियो, चार वेटरों को जंजीरों से बांधा और पांव में लगाए ताले


पुलिस को मिली बड़ी सफलता, मुख्य सरगना के साथ दो अपराधी हुए गिरफ्तार

👉 देवभूमि समाचार में इंटरनेट के माध्यम से पत्रकार और लेखकों की लेखनी को समाचार के रूप में जनता के सामने प्रकाशित एवं प्रसारित किया जा रहा है। अपने शब्दों में देवभूमि समाचार से संबंधित अपनी टिप्पणी दें एवं 1, 2, 3, 4, 5 स्टार से रैंकिंग करें।

दस लाख का इनामी नक्सली अभिजीत यादव को किया गया गिरफ्तार, यह बिहार-झारखंड को मिलाकर 10.50 लाख का इनामी माओवादी है। इसने बड़ी घटना के रूप में वर्ष 2016 में औरंगाबाद में हमला कर सात सुरक्षाबलों को शहीद कर दिया था। पढ़ें गया, बिहार से अर्जुन केशरी की रिपोर्ट...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Devbhoomi Samachar