उत्पादन की स्थिति का आंकलन करने के निर्देश

इस समाचार को सुनें...

चमोली। आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में वाणिज्य मंत्रालय के निर्देशों के क्रम में उद्योग विभाग द्वारा शुक्रवार को विकास भवन सभागार में मुख्य विकास अधिकारी वरूण चौधरी की अध्यक्षता में एक्सपोर्ट कॉन्क्लेब का आयोजन किया गया। जिसमें रोजगार एवं उद्यमिता के अवसर सृजित करते हुए निर्यात का बढावा देने पर जोर दिया गया। इस कार्यक्रम में निर्यात प्रोत्साहन समिति के सदस्यों, जनपद के प्रमुख उद्यमियों, उत्पाद समूहों द्वारा प्रतिभाग कर अपने उत्पादों की प्रदर्शनी भी लगाई।

मुख्य विकास अधिकारी ने एक्सपोर्ट कॉन्क्लेव में उद्यमियों को केन्द्र सरकार की योजनाओं एवं सुविधाओं के बारे में विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने उद्यमियों को अधिक से अधिक उत्पाद तैयार करते हुए निर्यात के लिए प्रोत्साहित किया। कहा कि उद्यमियों एवं उत्पादन समूहों की समस्याओं का समाधान करने का पूरा प्रयास किया जाएगा। इस दौरान जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक को जनपद में उद्यमियों एवं समूहों को तकनीकि व वित्तीय सहायता उपलब्ध कराने, उत्पादन बढाने, मार्केटिंग और निर्यात की संभावनाओं तलाशने हेतु निर्देशित किया गया। समूह सदस्यों द्वारा विभिन्न स्थानों पर ग्रोथ सेंटर खोलने की डिमांड पर सीडीओ ने कृषि अधिकारी को संबधित क्षेत्र में उत्पादन की स्थिति का आंकलन करने के निर्देश दिए। एक्सपोर्ट कॉन्क्लेब में उद्योग विभाग के महाप्रबंधक द्वारा स्वरोजगार योजनाओं की जानकारी भी दी गई।

एक्सपोर्ट कॉन्क्लेब में जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक शिखर सक्सेना, एपीडी तारा हंयाकी, प्रभारी एलडीएम अखिलेश कुमार, सहायक उद्योग प्रबंधक बीएस कुंवर, अपर कृषि अधिकारी जीतेन्द्र भाष्कर, आईएलएसपी के प्रतीम भट्ट सहित विभिन्न एनआरएलएम समूहों की महिलाएं एवं उद्यमी अपने उत्पादों के साथ मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!