देखें वीडियो : मासूम को 3 घंटे तक खंभे से बांधकर पीटा

देखें वीडियो : मासूम को 3 घंटे तक खंभे से बांधकर पीटा, मुंह में भर दी मिर्ची

इस समाचार को सुनें...

पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ 307, 506, 504 और 2015 किशोर न्याय अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया है। सिटी एसपी का कहना है कि जो लोग वीडियो…

आजमगढ़। आजमगढ़ से हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। लोगों को मोबाइल चोरी होने का शक में एक नाबालिग बच्चे पर था। वह बच्चा जिसकी उम्र केवल 10 साल की थी। उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ में रहने वाले लोगों ने अपनी बेवकूफी का सुबूत भी दे दिया। साथ ही उनके इस हैरान करने वाले मामले ने यह भी बता दिया कि वह लोग कितने सनकी हैं और कितनी छोटी मानसिकता को साथ लेकर जी रहे हैं।

मामले के अनसार, एक 10 साल के बच्चे पर शक के बलबूते पर चोरी का आरोप भी मढ़ दिया और तालिबानी सजा भी मुकर्रर कर दी। लोगों ने उस बच्चे को बिजली के खंभे से बांधकर जमकर पीटा और उसके मुंह में मिर्ची डाल दी। इन दरिंदों ने इस घटना का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल भी किया। एक छोटे बच्चे को ऐसी सजा देना, एक दरिंदगी की पहचान है और छोटी मानसिकता के लोगों की एक घिनौनी हरकत है।

प्रताड़ित नाबालिग के पिता ने इस मामले की शिकायत पुलिस से की और पुलिस ने केस भी दर्ज किया है। अभी पुलिस वीडियो में नजर आ रहे सभी लोगों की तलाश में लगी हुयी है। इंसानियत के लिए कितनी शर्मिंदगी की बात है कि केवल शक को आधार मानकर लोगों ने एक 10 वर्षीय नाबालिग के साथ ऐसी दरिंदगी की। सभी तमाशा देखते रहे, वीडियो बनाते रहे, लेकिन कोई भी उसकी मदद के लिए सामने नहीं आया।

यह घटना यूपी के आजमगढ़ में बरदह थाना अंतर्गत हदीसा गांव की है। वीडियो में देखा सकता है कि कितनी दरिंदगी से एक मासूम के दोनों हाथ और दोनों पांव को पीछे से रस्सी से बांधा गया है। वह मासूम बच्चा जोर-जोर से दर्द से कराहता है, रोता है, मदद की गुहार लगाता है। अनेक महिला, पुरूष और युवा भी उस बच्चे को घेरकर खड़े थे, लेकिन किसी ने भी बच्चे की मदद करने के लिए आगे कदम नहीं बढ़ाया।

उस मासूम बच्चे के पिता ने अपनी लिखित शिकायत में यह दर्ज किया है कि गांववालों ने उसके बेटे को तीन घंटे तक खंभे से बांधकर रखा। उस मासूम के साथ तीन घंटे तक मारपीट की। बच्चे ने जब पानी की मांग की तो लोगों ने उसके मुंह में मिर्ची डाल दी। उसके पिता ने यह भी बताया कि उसके बच्चे से मोबाइल चोरी करने की बात जबरदस्ती स्वीकार करवाई गई है।

उस मासूम बच्चे के शिकायत के बाद पुलिस ने केस दर्ज किया और आरोपियों की तलाश में लगी हुयी है। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ 307, 506, 504 और 2015 किशोर न्याय अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया है। सिटी एसपी का कहना है कि जो लोग वीडियो में दिख रहे हैं, उनके ऊपर भी 120-बी का मुकदमा दर्ज कर आगे की कार्यवाही की जा रही है।



बहरहाल, हमारे देश के लिए कितनी शर्मिंदगी की बात है कि अक्लदार और उम्रदराज लोगों के दिमाग में अब तक भूसा भरा हुआ है। यह घटना चार दिन पहले हुयी थी और उस बच्चे को जब तीन घंटे तक पीटा गया और मुंह में मिर्च भर दी गयी होगी तो उसका क्या हाल होगा। सोचने वाली बात है कि हमारा देश जब तक छोटी मानसिकता वाले लोगों से भरा रहेगा, तब तक किसी भी मामले में आगे नहीं बढ़ सकता।

Back to top button
error: Devbhoomi Samachar