कैमरों की निगरानी में रहेंगे समूह-ग भर्तियों के प्रश्नपत्र

इस समाचार को सुनें...

कैमरों की निगरानी में रहेंगे समूह-ग भर्तियों के प्रश्नपत्र, मुख्य सचिव ने सभी डीएम को कहा कि चूंकि प्रदेश में आने वाले समय में कई जगहों पर बर्फबारी की वजह से मार्ग अवरुद्ध होने का खतरा है। लिहाजा…

देहरादून। अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की परीक्षाओं के पेपर बड़े पैमाने पर लीक होने के बाद उत्तराखंड लोक सेवा आयोग समूह-ग की भर्तियां कड़ी निगरानी में कराएगा। इसके लिए पेपर जहां डबल लॉक में रखे जाएंगे तो परीक्षा से पहले और परीक्षा के दौरान की पूरी प्रक्रिया सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में होगी। मुख्य सचिव डॉ. एसएस संधु ने बैठक कर यह निर्देश दिए।

कैमरों की निगरानी में रहेंगे समूह-ग भर्तियों के प्रश्नपत्र, मुख्य सचिव ने सभी डीएम को कहा कि चूंकि प्रदेश में आने वाले समय में कई जगहों पर बर्फबारी की वजह से मार्ग अवरुद्ध होने का खतरा है। लिहाजा...शुक्रवार को सचिवालय में वीडियो कांफ्रेंसिंग से आयोग की परीक्षाओं में पारदर्शिता को लेकर सभी जिलों के डीएम और एसपी के साथ मुख्य सचिव डॉ. एसएस संधु ने बैठक की। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग से उत्तराखंड लोक सेवा आयोग को हस्तांतरित परीक्षाओं में से दिसंबर में पुलिस आरक्षी, आईआरबी एवं अग्निशामक की परीक्षा होनी है। उन्होंने सभी जिलाधिकारियों को इस परीक्षा और आगे होने वाली अन्य परीक्षाओं को शुचितापूर्ण एवं पारदर्शिता से कराने के लिए फुलप्रूफ प्लान तैयार करने के निर्देश दिए। बैठक में अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी, पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार, सचिव शैलेश बगोली भी मौजूद रहे।

मुख्य सचिव ने सभी डीएम को कहा कि चूंकि प्रदेश में आने वाले समय में कई जगहों पर बर्फबारी की वजह से मार्ग अवरुद्ध होने का खतरा है। लिहाजा, परीक्षा केंद्रों का चयन ऐसी जगह होना चाहिए कि उम्मीदवारों की परीक्षा प्रभावित न हो। ऐसे परीक्षा केंद्रों का चयन किया जाए, जिनमें पर्याप्त वांछित व्यवस्थाएं परिपूर्ण हों। उम्मीदवार समय से परीक्षा देने पहुंच सकें। इसके लिए पब्लिक ट्रांसपोर्टेशन की भी उचित व्यवस्था हो। उन्होंने परीक्षा के समय में परिवर्तन कर परीक्षा का समय 10 बजे से 12 बजे को बढ़ाकर सुबह 11 बजे से एक बजे करने के निर्देश दिए ताकि दूरदराज तक उम्मीदवार आसानी से पहुंच सकें।

अंकिता का जन्मदिन, परिवार को अब तक नहीं मिला इंसाफ का तोहफा

मुख्य सचिव डॉ. संधु ने सभी जिलाधिकारियों को प्रश्नपत्रों को रखने के लिए डबल लॉक सिस्टम और सीसीटीवी कैमरों की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। कहा कि परीक्षा केंद्रों के लिए भी वीडियोग्राफी को सीसीटीवी कैमरों की व्यवस्था की जाए। मुख्य सचिव ने निर्देश दिए कि परीक्षा केंद्रों में किसी भी प्रकार की घड़ी (स्मार्ट वॉच सहित), मोबाइल फोन और गैजेट्स को पूर्णत: प्रतिबंधित रखा जाए। समय देखने के लिए परीक्षा केंद्रों में घड़ी की व्यवस्था भी सुनिश्चित की जाए। दूरस्थ क्षेत्रों से आने वाले परीक्षार्थियों मोबाइल एवं घड़ी रखने के लिए उचित व्यवस्था रखी जाए।

मुख्य सचिव डॉ. संधु ने कहा कि परीक्षा का आयोजन जिला स्तर पर समग्र तौर पर जिलाधिकारी की देखरेख में किया जाएगा। आयोग के सहयोग के लिए हर जिले में नोडल अधिकारी की तैनाती की जाएगी। उन्होंने आयोग की ओर से भी भविष्य में होने वाली सभी परीक्षाओं के लिए परीक्षा केंद्रों में अलाउड, नोट अलाउड की पूरी लिस्ट का प्रचार, प्रसार करने के निर्देश दिए। उन्होंने ने आयोग की ओर से परीक्षाओं में तैनात अधिकारियों-कर्मचारियों के लिए ऑनलाइन ट्रेनिंग की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिए।

मुख्य सचिव ने पुलिस विभाग को कोचिंग सेंटरों की गतिविधियों पर निगरानी रखने के निर्देश दिए। उनके साथ बैठक कर जानकारी दी जाए कि नकल आदि की गतिविधियों में संलिप्तता पाए जाने पर कठोर कार्रवाई की जाएगी। मुख्य सचिव ने परीक्षाओं के पारदर्शितापूर्ण संचालन के लिए सभी जिलाधिकारियों से भी सुझाव भी मांगे। उत्तराखंड लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष राकेश कुमार ने कहा कि परीक्षाओं के आयोजन में जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे।

हाईकोर्ट में हुई अंकिता हत्याकांड को लेकर सुनवाई

मुख्यमंत्री ने कहा- हमारी संस्कृति विज्ञान आधारित है…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Devbhoomi Samachar