किसान संगठनों का आह्वान, भारत बंद का दिखा व्यापक असर

गया में बंद के दौरान GT रोड समेत सभी प्रमुख सड़कों का आवागमन रहा बाधित

इस समाचार को सुनें...

अर्जुन केशरी

गया, बिहार। बंदी जिला के विभिन्न प्रखंड में तीनों काले कृषि कानूनों को रद्द करने, प्रस्तावित बिजली बिल-2020 वापस लेने, बिहार में कृषि मंडी को पुनर्बहाल करने, MSP को कानूनी दर्जा देने, श्रम कानूनों पर हमला बंद करने और चार श्रम कोड को रद्द करने, महंगाई, बेरोजगारी दूर करने समेत अन्य मांगों को लेकर किसान संगठनों के संयुक्त आह्वान पर आज भारत बंद का जिला मुख्यालय समेत ग्रामीण इलाके में व्यापक असर रहा।

वामपंथी नेताओं समेत राजद-कांग्रेस कार्यकर्ता भी बंद में उतरे…

बन्द का किसान-मजदूर समेत छात्र-नौजवानों ने समर्थन दिया और मोदी सरकार की तानाशाही का जोरदार विरोध किया। यह विरोध प्रदर्शन लगभग 11 बजे तक 4 बजे तक शांति पूर्वक किया गया। वहीं मौके पर जाम में फंसे गया पुलिस अधीक्षक आदित्य कुमार ने कहा कि मैं पूरी तरह से यह प्रदर्शन को शांतिपूर्वक संपन्न कराने का प्रयासरत हूं।

गया के शेरघाटी, डोभी, बाराचट्टी से गुजरने वाली GT रोड(NH-2) को भी घंटों जाम किया गया। जिला मुख्यालय में महागठबंधन नेताओं के नेतृत्व में बड़ी जुलूस निकाला गया और शहर में मार्च किया गया।शेरघाटी विधायक मंजू अग्रवाल, पूर्व विधायक समता देवी , गया कांग्रेस अध्यक्ष चंद्रिका प्रसाद यादव, छात्र नेता अनुज यादव, रवि यादव आदि ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Devbhoomi Samachar