छिपिढांग चोटी को फतह कर लौटा महिलाओं का आठ सदस्यीय

इस समाचार को सुनें...

(देवभूमि समाचार)

सीमांत जनपद पिथौरागढ स्थित कैलाश रीजन की अविजित छिपिढांग चोटी (6220मीटर) पर फतह कर लौटे CBTS के महिलाओं के आठ सदस्यीय दल का आज पिथौरागढ आगमन पर इंट्रिसिक क्लाइंबर्स एंड एक्सप्लोरर्स ( आईस) संस्था ने भव्य स्वागत किया.

पिथौरागढ। इस पर्वतारोही महिला दल का नेतृत्व एवरेस्ट विजेता शीतल राज ने किया.रई स्थित पार्थ बारातघर में आयोजित एक समारोह में महिला पर्वतारोही दल में शामिल महाराष्ट्र की याद्मिनी विलारे और दीपिका करामदे, उत्तराखंड निवासी ममता बिष्ट, गीता ठाकुर, कला बडाल, अनामिका दताल, मीनाक्षी राठौर को आईस संस्था के सचिव प्रसिद्ध पर्वतारोही विश्वदेव पांडेय ‘वासू’, हरीश ऐठाणी, मुकेश गिरी, नन्दा, शुभम्, दीपिका और लोकेश पवार के अलावा आम आदमी पार्टी के संगठन मंत्री गिरीश जोशी, चन्द्र प्रकाश पुनेड़ा, अशोक पांडेय, रामा इंफोटेक के प्रबंधक शैलेन्द्र, स्टेट हैड राज्यवर्धन सिंह आदि ने स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया.

एवरेस्ट विजेता शीतल राज को एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स का प्रमाण पत्र भी समारोह में भेंट किया गया. पिछले साल दिसंबर में बिर्थी फॉल पर सफलतापूर्वक वाटरफाल रैपलिंग करने वाली 31 सदस्यीय टीम में शीतल राज भी शामिल थी. वाटरफाल रैपलिंग का आयोजन भी आईस संस्था ने किया.

इस अवसर पर टीम लीडर एवरेस्टर शीतल राज ने अपने अनुभव साझा करते हुए कहा कि आइस के संस्थापक वासू पांडेय तथा CBTS के योगेश गर्ब्याल सर द्वारा दिए गए प्रशिक्षण के कारण वह इस अभियान का कुशलतापूर्वक संचालन कर पाईं. इस अभियान में कुशल और अकुशल पर्वतारोही शामिल हुए थे.

एकदम नया मार्ग तैयार करना था और सूखे, तंग पहाड़ को फतह करने की चुनौती अत्यंत साहसिक यात्रा थी, जिसे फतह करना एक बहुत बड़ी उपलब्धि कहा जा सकता है. शीतल ने आईस टीम के प्रशिक्षण को आपदा प्रबंधन, साहसिक पर्यटन और पर्वतारोहण के लिए मील का पत्थर बताया.समारोह का संचालन आईस संस्था के अध्यक्ष जगदीश कलौनी ने और अध्यक्षता सामाजिक कार्यकर्ता चंद्र प्रकाश पुनेड़ा ने किया.

(साभार)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Devbhoomi Samachar