कविता : किरदार

इस समाचार को सुनें...

आशीष तिवारी निर्मल

अपना असली रंग दिखाया उसने
अपने झूठ को सच बताया उसने।

कत्ल कर मेरे मासूम जज्बातों का
सारे किरदार दोगले निभाया उसने।

मेहनत की कमाई पर हाथ साफकर
कमाई को हराम का बताया उसने ।

पेशा उसका है यह तो खानदानी ही
कितनों संग रंगीन रात बिताया उसने।

अपनी मजबूरी,बेबसी का देके वास्ता
परिवारों की खुशियों को खाया उसने।

लगवा दूंगी धाराएँ सब गैर जमानती
कहकर कितनों को धमकाया उसने।


¤  प्रकाशन परिचय  ¤

Devbhoomi
From »

आशीष तिवारी निर्मल

कवि, लेखक एवं पत्रकार

Address »
मकान नंबर 702 लालगाँव, जिला रीवा (मध्य प्रदेश) | Mob : 8602929616

Publisher »
देवभूमि समाचार, देहरादून (उत्तराखण्ड)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Devbhoomi Samachar
Verified by MonsterInsights