कैबिनेट मंत्री के मर्डर का बना था प्लान, 4 आरोपी गिरफ्तार

इस समाचार को सुनें...

तहरीर में जिक्र है कि हल्द्वानी जेल में आरोपी की यूपी निवासी सतनाम से मुलाकात हुई। उसने सतनाम से कहा कि मंत्री की हत्या करनी है, चाहे जितने रुपये खर्च हो जाएं।

उधम सिंह नगर। उत्तराखंड सरकार में कैबिनेट मंत्री और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा के बेटे सौरभ बहुगुणा की हत्या की साजिश का मामला सामने आया है. सितारगंज कोतवाली में कैबिनेट मंत्री सौरभ बहुगुणा की हत्या की साजिश करने के मामले में चार आरोपियों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज किया गया है.

पुलिस ने चारों आरोपियों को गिरफ्तार किया है. जांच में पता चला है कि साजिशकर्ता सौरभ बहुगुणा से सितारगंज में घर पर मिलने भी गया था. बता दें कि मंत्री सौरभ बहुगुणा उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा के सबसे छोटे बेटे हैं. उनके दादा हेमवती नंदन बहुगुणा पूर्व केंद्रीय कैबिनेट मंत्री और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री रह चुके हैं.

दरअसल, सितारगंज विधानसभा सीट से 2012 में विजय बहुगुणा विधायक निर्वाचित हुए थे. 2017 में उनके बेटे सौरभ बहुगुणा चुनावी बाजी जीतकर विधानसभा पहुंचे थे. बीजेपी के सौरभ बहुगुणा के सामने कांग्रेस की मालती विश्वास को 28 हजार वोट से अधिक के अंतर से हार का सामना करना पड़ा था. 2022 में भी सौरभ पर भाजपा ने भरोसा जताया और उन्हें सितारगंज से उम्मीदवार बनाया था.

तहरीर में जिक्र है कि हल्द्वानी जेल में आरोपी की यूपी निवासी सतनाम से मुलाकात हुई। उसने सतनाम से कहा कि मंत्री की हत्या करनी है, चाहे जितने रुपये खर्च हो जाएं। सतनाम ने अपने दोस्त किच्छा के मो. अजीज उर्फ गुड्डू को बड़ा अपराधी बताते हुए उसे सुपारी देने की बात कही। साथ ही उसके जेल से बाहर निकलने पर एक अन्य साथी हरभजन सिंह के गुड्डू से मिलवाने की बात कही।

इस तरह हीरा अपने साथियों के साथ मंत्री की हत्या की साजिश रच रहा था। जेल से छूटकर आए हीरा पर नजर रखी तो उसे कैबिनेट मंत्री की सभाओं में रेकी करते हुए देखा गया। पुलिस ने मंत्री के प्रतिनिधि उमाशंकर की तहरीर पर चारों आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Devbhoomi Samachar
Verified by MonsterInsights