बांध टूटने से बह गई 50 यात्रियों से भरी बस

इस समाचार को सुनें...

अमरावती। आंध प्रदेश में में बारिश बारिश ने तबाही मचा दी है। 19 नवंबर को रायलसीमा के तीन जिलों में और एक दक्षिणी तटीय जिले में 20 सेंटिमीटर बारिश की वजह से जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है। बारिश का सबसे ज्यादा कहर कडप्पा जिले में दिखाई दिया। यहां एक बांध टूटने से 50 यात्रियों से भरी बस पानी में बह गई।

हालांकि ज्यादातर को बचा लिया गया। एक अन्य घटना में बाढ़ में एक गांव के 20 लोग बह गए। इनमें से 8 की मौत हो गई। अलग-अलग घटनाओं में 17 लोगों की मौत की खबर है। 100 से अधिक लोग लापता हैं। इस बीच मौसम विज्ञान विभाग ने चेतावनी दी है कि बंगाल की खाड़ी में कम दबाव के क्षेत्र बनने से तेलंगाना और आंध्र प्रदेश में बारिश हो सकती है।

आंध प्रदेश में बाढ़ के चलते हालात खराब हो गए हैं। अनंतपुर जिले में नदियां उफान पर हैं। चित्रावती नदी में आई बाढ़ में 10 लोग फंस गए थे। उन्हें सेना के हेलिकॉप्टर की मदद से रेस्क्यू किया गया। आंध्र प्रदेश में बाढ़ का सबसे अधिक कहर कडप्पा के अलावा चित्तूर और नेल्लू जिलों में दिखाई दे रहा है। यहां नदी-नहरें सब जबर्दस्त उफान पर हैं।

पानी में सड़कें बह गई हैं। बचाव कार्य लगातार जारी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगनमोहन रेड्डी से फोन पर बात की और स्थिति के बारे में जानकारी ली। मोदी ने केंद्र सरकार की ओर से हरसंभव मदद का आश्वासन दिया है। पीएम ने एक ट्वीट में कहा; ‘आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री से राज्य के कुछ हिस्सों में भारी बारिश से जुड़े हालात के बारे में बात की। केंद्र सरकार की ओर से हरसंभव मदद का आश्वासन दिया। मैं सभी लोगों के सुरक्षि‍त और सलामत रहने के लिए प्रार्थना करता हूं।’

आंध्र प्रदेश के कडप्पा में बांध टूटने के बाद बाढ़ में डूबी बस। बस में 50 यात्री सवार थे, जिनमें से ज्यादातर बचा लिए गए। आंध्र प्रदेश में बारिश से हुए हादसों में मौतों का आंकड़ा अभी साफ नहीं है। मूसलाधार बारिश की वजह से मंदिर नगरी तिरुपति में सड़कों पर पानी बहने लगा। इससे श्रद्धालु फंस गए।

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग(IMD) ने अगले 2 दिनों तक आंध्र प्रदेश के रायलसीमा सहित अधिकांश स्थानों पर, तमिलनाडु और पुडुचेरी में बारिश की संभावना जताई है। तटीय कर्नाटक में भी बारिश की संभावना है। बाढ़ के कारण जगह-जगह सैकड़ों लोग फंसे हुए हैं। उन्हें सुरक्षित निकालने के लिए लगातार रेस्क्यू चल रहा है। अगले कुछ दिन और बारिश की संभावना होने से प्रशासन अलर्ट है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!