चारधाम यात्रा में व्यवस्थाऐं चाक चौबन्द रखना सुनिश्चित

इस समाचार को सुनें...

चमोली। चारधाम यात्रा शुरू करने के लिए हरी झंडी मिलने के बाद जिला प्रशासन पूरी तरह से यात्रा व्यवस्थाओं को सुचारू करने में जुट गया है। शुक्रवार को जिलाधिकारी हिमांशु खुराना ने क्लेक्ट्रेट सभागार में यात्रा से जुड़े सभी विभागीय अधिकारियों की बैठक लेते हुए सुरक्षित एवं सुव्यवस्थित यात्रा संचालन को लेकर जरूरी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि चारधाम यात्रा को अधिक सुगम व सुविधाजनक बनाने के लिए बेहतर प्रबन्धन के साथ सभी व्यवस्थाऐं चाक चौबन्द रखना सुनिश्चित करें।

जिलाधिकारी ने एनएचआईडीसीएल, बीआरओ तथा लोनिवि को यात्रा मार्ग को दुरूस्त करने के साथ ही मार्ग पर सड़क सुरक्षा के पुख्ता इतेजाम सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि संवेदनशील क्षेत्रों में जहां-जहां भी सड़क सुधारीकरण के कार्य होने है, उनको युद्धस्तर पर तत्काल पूरा कराया जाए। सभी संवेदनशील स्थलों, संकरे और डाइवर्जन वाले सड़क मार्गो पर तत्काल होर्डिग्स व साइनेज लगाने के साथ ही एक्सावेटर, डोजर, जेसीबी मशीन की तैनाती करना सुनश्चित करें। लोनिवि, वन एवं पर्यटन अधिकारियों को सभी वैकल्पिक मार्गो को ठीक कराने के निर्देश दिए। गोविन्द घाट-पुलना-घांघरियां-हेमकुंड पैदल मार्ग को दुरूस्त करने के साथ ही कोविड प्रोटोकाल पालन हेतु साइनेज लगाने के निर्देश दिए गए।

स्वास्थ्य विभाग को गौचर बैरियर, पांडुवाखाल, गोविन्दघाट, पाण्डुकेश्वर आदि स्थानों में कोविड टेस्टिंग एवं टीकाकरण की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। कहा कि बद्रीनाथ, गोवन्दि घाट सहित सभी अस्पतालों में जरूरी दवाइयों का पर्याप्त स्टॉक, एंबुलेंस और पैरामेडिकल स्टॉफ की तैनाती सुनिश्चित की जाए। जल संस्थान को यात्रा मार्ग पर स्टैंड पोस्ट, पानी की टंकियों व हैंडपंम्प को सुचारू करने के साथ शुद्व पेयजल की व्यवस्था सुनिश्चित को कहा। विद्युत विभाग को सभी यात्रा पढावों पर विद्युत आपूर्ति सुचारू रखने हेतु निर्देशित किया गया।

नगर पालिका व नगर पंचायत को निकाय क्षेत्रों में सार्वजनिक शौचालयों में विद्युत, पानी की व्यवस्था के साथ विशेष साफ-सफाई रखने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने यात्रा मार्ग पर भीड़ प्रबंधन, यातायात व्यवस्था, कोविड प्रोटोकाल के अनुपालन सुनिश्चित करने के भी निर्देश अधिकारियों को दिए। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक यशवंत सिह चौहान, संयुक्त मजिस्ट्रेट अभिनव शाह, सीएमओ डा0 केके अग्रवाल, सीओ पुलिस धनसिंह तोमर, जीएम एनएचआईडीसीएल संदीप कार्की सहित यात्रा व्यवस्थाओं से जुड़े सभी विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

बैठक के बाद जिलाधिकारी हिमंाशु खुराना एवं पुलिस अधीक्षक यशवंत सिंह चौहान ने चमोली से गौचर तक राष्ट्रीय राजमार्ग का निरीक्षण कर यात्रा व्यवस्थाओं का जायजा भी लिया। इस दौरान जिलाधिकारी ने चटवापीपल, कर्णप्रयाग पंचपुलिया, कालेश्वर, लंगासू, देवलीबगड, मैठाणा, कुहेड, बाजपुर, चमोली चाडा आदि विभिन्न स्थलों का निरीक्षण करते हुए एनएचआईडीसीएल को सभी संवेदनशील स्थलों पर सडक सुरक्षा के पुख्ता इंतेजाम करने, तीव्र एवं संकरे स्थानों पर चेतावनी साईन बोर्ड लगाने गौचर से हेलंग तक सडक को गढ्ढा मुक्त बनाने के निर्देश दिए।

कहा कि संवेदनशील स्थलों पर सड़क सुरक्षा के कार्य तत्काल पूरा करें। गौचर बैरियर का निरीक्षण करते हुए जिलाधिकारी ने वैरियर पर चिकित्सा टीम व पुलिस बल की तैनाती करते हुए कोविड टेस्टिंग की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। कहा कि जिन यात्रियों को कोविड वैक्सीन लगनी है उनको बार्डर पर ही वैक्सीन लगाई जाए। वैरियर पर कोविड टेस्टिंग व वैक्सीनेशन की जानकारी के लिए होर्डिंग्स, साइनेज लगाते हुए कोविड सुरक्षा हेतु समुचित व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!