आपदा मित्र अद्यतनिकरण प्रशिक्षण कार्यक्रम

एसडीआरएफ की टीम भी हुई कायल, बागेश्वर जनपद के 25 नौजवान बनेंगे आपदा मित्र

इस समाचार को सुनें...

पिथौरागढ। उत्तराखंड में साहसिक खेलों की अग्रणी संस्था इंट्रिसिक क्लाइंबर्स एण्ड एक्सप्लोरर्स ‘आईस’ के संयोजन में आयोजित आपदा मित्र अद्यतनिकरण प्रशिक्षण कार्यक्रम में आज पिथौरागढ स्थित एसडीआरएफ के अधिकारियों और कार्मिकों ने प्रतिभाग किया।

उन्होंने आईस टीम के प्रशिक्षकों की ओर से दिए जा रहे प्रशिक्षण को उच्चतम श्रेणी का प्रशिक्षण दिए जाने पर अत्यंत प्रशन्नता व्यक्त की और इस प्रशिक्षण को आजीवन व्यवहार में लाने की अपील की।



एसडीआरएफ पिथौरागढ़ ने आपदा मित्र अद्यतनिकरण परियोजना के तहत आईस संस्था के संयोजन में राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन आयोग और राज्य आपदा प्रबंधन विभाग के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित आपदा मित्र प्रशिक्षण कार्यक्रम में उपस्थित होकर प्रशिक्षणार्थियों को अग्नि के प्रकार, बुझाने के तरीकों पर जानकारी साझा की।

उन्होंने अपने उपकरणों से डायमंड चेन सौ, रोटेटरी रेस्क्यू सौ, चेन सौ, रिमोट एरिया लाइट सिस्टम आदी के बारे में जानकारी दी और उनके उपयोग के तौर तरीके बताकर प्रशिक्षणार्थियों को उपकरणों का प्रयोग करना सिखाया।



एसडीआरएफ की इस विशेष टीम में जितेन्द्र सिंह बिष्ट, सन्तोष सिंह, अमित मिश्रा एवं भूपेन्द्र शामिल रहे। आईस के सचिव बासू पाण्डे, मुख्य प्रशिक्षक चंचल प्रसाद, मुकेश गिरी, लोकेश पवार, पवन कुमार, अभिषेक भण्डारी, अतिथि प्रशिक्षक पूनम खत्री ने आपदा मित्र अद्यतनिकरण प्रशिक्षण कार्यक्रम के दौरान कई जा रही गतिविधियों की जानकारी साझा की।

संस्था अध्यक्ष जगदीश कलौनी ने कहा कि प्राकृतिक और मानवजनित आपदाओं से निपटने के लिए सभी नागरिकों को जागरुक और प्रशिक्षित किया जाना चाहिए।


Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!