साहित्य अर्पण मंच की ओर से शहीदों को अश्रुपूरित श्रद्धांजलि

इस समाचार को सुनें...

(कुमार संदीप)

साहित्य अर्पण मंच साहित्य की दुनिया में एक नया अनुभव सबके सामने उजागर करता चल रहा है। जिसके अंतर्गत हम नित न‌ए अनुभव एडमिन नेहा जी, कार्यकारिणी सदस्य नूतन जी, पूनम जी, दीप्ति जी, विनय जी, संदीप जी व सभी साथी मिलकर सांझा करते हैं।

इसी के चलते भारतीय सेना प्रमुख जनरल विपिन रावत जी व उनकी पत्नी समेत सभी शहीदों के दुखद निधन पर उन्हें ग्रुप के सभी साथियों ने भावभीनी अश्रुपूरित श्रद्धांजलि अर्पित की। जिस महान व्यक्ति ने सभी के ऊपर अपनी अमिट छाप छोड़ी उनको श्रद्धांजलि रूपी पुष्प अर्पित करते हुए सभी के सुंदर शब्दों को एक माला में पिरोने की कोशिश की है।

इस श्रद्धांजलि माला में जिन कलमकारों ने अपने शब्द रुपी फूलों से संवेदना व्यक्त की है वे इस प्रकार हैं…

  • आ० नूतन गर्ग जी- “देश ने खो दिया सपूत, एक नहीं बहुत सारे वीर सपूत”
  • आ० दीप्ति शुक्ला जी- “गम़जदा है हर रूह, मसीहा मेरा देखो सोया हुआ है”
  • आ० सरला मेहता जी- “शौर्यवीर जनरल विपिन रावत मां भारती के थे लाड़ले सपूत”
  • आ० दीपेश गौर जी- “क्रूर काल ने छल से छीना, समर धुरंदर वीर”
  • आ० चंचल हरेंद्र वशिष्ठ जी- “मौत आज़ फिर बेमानी हुई है, सस्ती ये जिंदगानी हुई है”
  • आ० लोकेश्वरी कश्यप जी- “उनकी याद में आज़ हर आंख नम है”
  • आ० भावना भारद्वाज जी- ” कुछ शब्द नहीं हैं सूझते अब, देश और सेना की होती क्षति जब”
  • आ० स्वाति सिंह साहिबा जी- “कल चुनरी जो रंगी रंग से, आज़ कफ़न वो बन गई”
  • आ० रेणु गुप्ता जी- “मेजर साहब अपनी अनंत यात्रा पर चल पड़े थे”
  • आ० कैस मज़ाज जी- “शहीद हुए हैं दो गुलाब, चश्मे तर को मिला है पैगाम”
  • आ० अजय केसरी जी- “याद धरे मन बात करे सब, रावत जी हित मान बढ़ाए”
  • आ० मीरा शिंजनी जी- “ये शेर हैं भारत के, दहाड़ते बर्फीली पहाड़ियों पर”

इस प्रकार सभी सम्मानित कलमकारों ने भारत मां के लाल विपिन रावत जी व उनकी पत्नी समेत सभी शहीदों को अश्रुपूरित श्रद्धांजलि अर्पित की और उनके परिवार को इस दुख से बाहर निकलने हेतु प्रार्थना भी की।

जय हिन्द जय भारत

धन्यवाद साहित्य अर्पण कार्यकारिणी टीम
नेहा शर्मा, नूतन गर्ग, पूनम बागड़िया, दीप्ति शुक्ला, विनय गौतम, कुमार संदीप


¤  प्रकाशन परिचय  ¤

Devbhoomi
From »

कुमार संदीप

लेखक एवं कवि

Address »
ग्राम-सिमरा, पोस्ट-श्री कांत, अंचल-बंदरा, जिला-मुजफ्फरपुर (बिहार) | Mob : +91-7562017165

Publisher »
देवभूमि समाचार, देहरादून (उत्तराखण्ड)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!