जगह-जगह पानी का रिसाव, सैकड़ों लोग प्रभावित

इस समाचार को सुनें...

हरिद्वार। जिलाधिकारी श्री विनय शंकर पाण्डेय की अध्यक्षता में सोमवार को कलक्ट्रेट सभागार में नगरपालिका परिषद शिवालिक नगर क्षेत्रान्तर्गत सुभाषनगर एवं नवोदयनगर क्षेत्र में पर्याप्त जलापूर्ति किये जाने आदि के सम्बन्ध में एक बैठक आयोजित हुई।

बैठक में शिवालिक नगरपालिका के अध्यक्ष श्री राजीव शर्मा ने सुभाषनगर एवं नवोदयनगर की पेयजल की समस्या के सम्बन्ध में विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने कहा कि पानी की आपूर्ति का संचालन समिति द्वारा किया जाता है तथा इन क्षेत्रों में पानी की आपूर्ति के लिये जो व्यवस्था चल रही है, वह काफी पुरानी होने की वजह से उसमें सुधार लाने की आवश्यकता है। सुभाषनगर तथा नवोदयनगर में पानी की पाइप लाइनें काफी पुरानी हैं, जिनमें जगह-जगह पानी का रिसाव होते रहता है, जिससे क्षेत्र के सैकड़ों लोग प्रभावित होते हैं।

जिलाधिकारी श्री विनय शंकर पाण्डेय ने बैठक में उपस्थित समिति के पदाधिकारियों से क्षेत्र में कितने कनेक्शन हैं, उनमें से अवैध कनेक्शन कितने चल रहे हैं, प्रति घर के हिसाब से कितना पानी का बिल प्रतिमाह लिया जाता है, समिति की प्रतिमाह की कितनी आय होती है, कितनी वसूली बाकी है आदि के सम्बन्ध में विस्तृत जानकारी ली। उन्होंने सभी पहलुओं को दृष्टिगत रखते हुये अधिकारियों को निर्देश दिये कि समिति का ऑडिट कराया जाये तथा इसकी रिपोर्ट 15 दिन के भीतर उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।

उन्होंने ये भी निर्देश दिये कि ऑडिट के दौरान समिति द्वारा कोई भी पैसा खर्च नहीं किया जायेगा। उन्होंने कहा कि ऑडिट की रिपोर्ट में जो डिफाल्टर पाये जाते हैं, उनका पानी का कनेक्शन काटने आदि की कार्रवाई की जाये। श्री विनय शंकर पाण्डेय ने जल संस्थान के अधिकारियों को निर्देश दिये कि समिति के माध्यम से पानी आपूर्ति की जो व्यवस्था इन क्षेत्रों में चल रही है, उसका तीन-चार दिन के भीतर पूरा सर्वे करा लंे तथा उसको हैण्डओवर करने की प्रक्रिया के सम्बन्ध में अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करें।

जिलाधिकारी ने कहा कि हमारा उद्देश्य हर हाल में लोगों को पानी उपलब्ध कराना है इसलिये पानी की आपूर्ति की वर्तमान में जो व्यवस्था चल रही है, उसमें क्या-क्या सुधार किया जा सकता है, कहां मिनी ट्यूबवेल लगाये जा सकते है, कहां पर पाइप लाइन बिछानी अति आवश्यक है आदि के सम्बन्ध में एक योजना तैयार कर लें।

बैठक में नवोदय नगर मुख्य मार्ग का अतिक्रमण हटाने, सामुदायिक केन्द्र नवोदयनगर को पालिका को हस्तांतरण किये जाने, पोस्ट आफिस, बैंक, राशन की दुकान खोलने आदि के सम्बन्ध में भी विस्तृत विचार-विमर्श हुआ तथा इस सन्दर्भ में सम्बन्धित को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये।

इस अवसर पर एसडीएम श्री पूरन सिंह राणा, परियोजना निदेशक श्री विक्रम सिंह, अधिशासी अभियन्ता जल संस्थान श्री मदन सेन, नगरपालिका परिषद के अधिकारी एवं पदाधिकारीगण, समिति के पदाधिकारीगण सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारीगण उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!