उत्‍तराखंड में महंगा पड़ेगा स्टंट दिखाना, तीन लाख जुर्माना

इस समाचार को सुनें...

उत्‍तराखंड में महंगा पड़ेगा स्टंट दिखाना, तीन लाख जुर्माना, पिछले एक सप्ताह में 10 ब्लागरों को चिन्हित किया गया है जिन पर शांति भंग की कार्रवाई करने के लिए थानो को अवगत कराया जा चुका है। इस अभियान के…

देहरादून। आजकल की युवा पीढ़ी यूट्यूब और फ़ेसबुक ब्लागर पर छाने के लिए हैरतअंगेज करतब दिखाने के चक्कर में कई बार अपने लिए ही मुसीबत खड़ी कर लेते हैं। कई बार जोखिम भरे करतब करने चक्कर में ऐसे-ऐसे जानलेवा स्टंट करते दिखाई देते हैं, जो कई बार उनके लिए ही खतरनाक साबित हो जाते हैं।

ऐसे स्टंटबाजों पर कार्रवाई करने के लिए यातायात पुलिस ने पूरी तैयारी कर ली है। स्टंटबाजों के खिलाफ शांति भंग का चालान करते हुए तीन लाख रुपये जुर्माना लगाया जाएगा। कुछ दिन पहले एक ब्लागर ने यू-ट्यूब पर वीडियो डाला कि पुलिस उसका कुछ नहीं बिगाड़ सकती उसने नंबर प्लेट भी नहीं लगाई हुई है, पुलिस को जो बिगाड़ना है बिगाड़ ले।

जब इस पोस्ट को एसपी यातायात अक्षय कोंडे ने देखी तो उन्होंने ब्लाग बनाने के चक्कर में आमजन की जिंदगी को खतरे में डालने वाले ब्लागर के खिलाफ कार्रवाई करने की योजना बनाई। उन्होंने बताया कि यातायात पुलिस के इंटनेट मीडिया सेल की ओर से रेश ड्राइविंग वाहन चलाकर अपने ब्लाग में इस प्रकार की वीडियो अपलोड करने वालों पर कडी नजर रखी जा रही है ।

पिछले एक सप्ताह में 10 ब्लागरों को चिन्हित किया गया है जिन पर शांति भंग की कार्रवाई करने के लिए थानो को अवगत कराया जा चुका है। इस अभियान के तहत चिन्हित वाहन चालक को छह महीने के लिए शांति बनाए रखने के लिए बंधित किया जाएगा। यदि इस अवधि में रेश ड्राइविंग की वीडियो ब्लागर की ओर से कहीं अपलोड की तो उस पर तीन लाख तक जुर्माना वसूला जाएगा।

मां ने फोन चलाने को रोका तो झारखंड से भागकर रुद्रपुर पहुंच गया नाबालिग


👉 देवभूमि समाचार में इंटरनेट के माध्यम से पत्रकार और लेखकों की लेखनी को समाचार के रूप में जनता के सामने प्रकाशित एवं प्रसारित किया जा रहा है। अपने शब्दों में देवभूमि समाचार से संबंधित अपनी टिप्पणी दें एवं 1, 2, 3, 4, 5 स्टार से रैंकिंग करें।

उत्‍तराखंड में महंगा पड़ेगा स्टंट दिखाना, तीन लाख जुर्माना, पिछले एक सप्ताह में 10 ब्लागरों को चिन्हित किया गया है जिन पर शांति भंग की कार्रवाई करने के लिए थानो को अवगत कराया जा चुका है। इस अभियान के...

पाताल में नहीं गया जोशीमठ, अपनी जगह सुरक्षित खड़ा है : सतपाल महाराज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Devbhoomi Samachar