आपके विचार

मेहनत कीजिए, भाग्य बदल जायेगा

सुनील कुमार माथुर

आज के इस प्रतिस्पर्धा के युग में वही व्यक्ति आगे बढ पाता हैं जो मेहनत करता है । इसलिए मेहनत कीजिए , आपका भाग्य बदल जायेगा । कर्मठशील व मेहनतकश व्यक्ति सदैव अपनी मंजिल पर पहले पहुंचता हैं चूंकि उसका लक्ष्य निर्धारित होता हैं और वह किसी भी काम को छोटा या बडा नहीं समझता हैं और ईमानदारी के साथ पूरा कर लेता हैं और एक दिन वह आता हैं कि वह कहां था और कहां पहुंच गया अब लोग कहते हैं कि देखो अमुक व्यक्ति ने जी भर कर कडी मेहनत की और अपना भाग्य बदल लिया ।

कहने का तात्पर्य यह है कि मेहनत करने वालों की कभी हार नहीं होती है अपितु अपने लक्ष्य व उदेश्य को ध्यान में रखते हुए कार्य करें । इसका मतलब यह नहीं है कि हम मौज मस्ती न करें । मौज – मस्ती अपनी जगह हैं और काम अपनी जगह हैं । अगर आप अपने काम को प्राथमिकता से करते हैं और श्रेष्ठ कार्य करते हैं तो कुछ समय मौज – मस्ती कर ले तो कोई बात नहीं है लेकिन केवल मौज – मस्ती करना जीवन को बर्बाद करना ही कहा जायेगा ।

आदर्श जीवन जीना भी एक कला है । इसलिए विलासिता से दूर रहें और शांति पूर्वक जीवन व्यतीत करें । जीवन में किसी भी प्रकार का तनाव न रखें । नित नयें संबंध बनायें और मेलमिलाप प्रगाढ़ कीजिए । अपने कार्यस्थल पर सभी से प्रेम भाव रखिये । किसी के साथ मनमुटाव न रखें ।

Related Articles

जीवन में सदैव अनुभवी लोगों का सहयोग ले और अपने से बडों की राय आपकों सफलता के रास्ते दिखाएगी । अपने कॅरियर में बदलाव लाने के लिए विवादों से दूर रहें । जब आप ईमानदारी व निष्ठा के साथ सुचारू रूप से कार्य करेगे तभी आप पर नई जिम्मेदारियों का बोझ आयेगा जिसे आप आसानी से बिना बाधा के संपादित कर पायेंगे ।

भाग्य को बदलने के लिए जहां एक ओर मेहनत जरूरी हैं वहीं दूसरी ओर अपनी वाणी पर नियंत्रण रखना भी जरूरी हैं अगर आपका अपनी वाणी पर नियंत्रण हैं तो जीवन खुद ब खुद सुधर जायेगा । आज का इंसान बात – बात पर झूठ का सहारा लेता हैं और झगडा करता हैं यह सबसे बुरी बात हैं चूंकि जीवन जीना भी एक कला है और यह कला यह हैं कि व्यक्ति जीवन में संयम बरतें । सहनशील बनें । किसी भी बात का अंहकार न करें । सभी के साथ समान व्यवहार करे और मधुर संबंध बनायें रखें । यही वक्त की पुकार है और आदर्श जीवन व्यतीत करने का मूल मंत्र हैं।


¤  प्रकाशन परिचय  ¤

Devbhoomi
From »

सुनील कुमार माथुर

लेखक एवं कवि

Address »
33, वर्धमान नगर, शोभावतो की ढाणी, खेमे का कुआ, पालरोड, जोधपुर (राजस्थान)

Publisher »
देवभूमि समाचार, देहरादून (उत्तराखण्ड)

4 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Devbhoomi Samachar
Verified by MonsterInsights