उत्तराखण्ड समाचार

टैंठी गांव में लगा राष्ट्रीय पोषण मिशन का स्टाॅल

टैंठी गांव में लगा राष्ट्रीय पोषण मिशन का स्टाॅल, कार्यक्रम में डाॅक्टरों व विभागीय सुपरवाईजर्स द्वारा उपस्थित अभिभावकों की काउंसलिंग करते हुए बच्चों को कुपोषण मुक्त रखने, मोटे अनाज, हरी सब्जियां इत्यादि का सेवन करने हेतु प्रेरित किया गया।

रुद्रप्रयाग। सरकार जनता के द्वार कार्यक्रम के तहत आज विकासखंड अगस्त्यमुनि के टैंठी गांव में बाल विकास परियोजना द्वारा राष्ट्रीय पोषण मिशन के अंतर्गत पोषण माह के तहत विभागीय स्टाॅल लगाया गया। इस दौरान उपस्थित आम जनमानस को पोषण, स्वास्थ्य एवं संचालित विभागीय योजनाओं की जानकारी से अवगत कराया गया।

आयोजित कार्यक्रम में बाल विकास विभाग द्वारा चिकित्सकों व एएनएम की उपस्थिति में स्वस्थ बालक-बालिका प्रतियोगिता का आयोजन भी किया गया जिसमें नजदीकी गांवों के 16 बच्चों द्वारा हिस्सा लिया गया। वहीं चिकित्सकों द्वारा उपस्थित बच्चों की स्वास्थ्य व उनके मातृ शिशु प्रतिरक्षण कार्ड में नियमित टीकाकरण की जांच की गई।

प्रतियोगिता में टैंठी गांव की अवनी पहले स्थान पर रही। इसके अलावा दूसरे स्थान पर टैंठी गांव की ही सृष्टि, तीसरे स्थान पर सुराड़ी की सलोनी तथा चैथे स्थान पर जुंटई के मास्टर मयंक रहे। इन बच्चों को विभाग द्वारा पुरस्कृत भी किया गया।

दो बार जबरन कराया गर्भपात और अब बच्चे को छोड़कर हुए फरार

कार्यक्रम में डाॅक्टरों व विभागीय सुपरवाईजर्स द्वारा उपस्थित अभिभावकों की काउंसलिंग करते हुए बच्चों को कुपोषण मुक्त रखने, मोटे अनाज, हरी सब्जियां इत्यादि का सेवन करने हेतु प्रेरित किया गया।

इस दौरान जिला कार्यक्रम अधिकारी डाॅ. अखिलेश मिश्रा, बाल विकास परियोजना अधिकारी शैली प्रजापति, अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ. विमल गुसांई, सुपरवाईजर सुमनलता, पुष्पा खत्री, जिला समन्वयक चाणक्य कपरूवाण, ब्लाॅक समन्वयक पवन आर्य सहित आंगनवाड़ी कार्यकत्रियां व स्थानीय ग्रामीण मौजूद रहे।

काट दी हिंदू युवक की चोटी, जमकर बरसाई लाठियां


👉 देवभूमि समाचार में इंटरनेट के माध्यम से पत्रकार और लेखकों की लेखनी को समाचार के रूप में जनता के सामने प्रकाशित एवं प्रसारित किया जा रहा है। अपने शब्दों में देवभूमि समाचार से संबंधित अपनी टिप्पणी दें एवं 1, 2, 3, 4, 5 स्टार से रैंकिंग करें।

टैंठी गांव में लगा राष्ट्रीय पोषण मिशन का स्टाॅल, कार्यक्रम में डाॅक्टरों व विभागीय सुपरवाईजर्स द्वारा उपस्थित अभिभावकों की काउंसलिंग करते हुए बच्चों को कुपोषण मुक्त रखने, मोटे अनाज, हरी सब्जियां इत्यादि का सेवन करने हेतु प्रेरित किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Devbhoomi Samachar
Verified by MonsterInsights