उत्तराखण्ड समाचार

होंडा कार्स इंडिया ने भारत में 2 मिलियन कारों के उत्‍पादन की उपलब्धि हासिल की

भारत में निर्मित 2,000,000वीं कार राजस्‍थान के तापुकारा संयंत्र से निकली

भारत में हमारा अत्‍याधुनिक उत्‍पादन परिचालन घरेलू और निर्यात, दोनों बाजारों में आपूर्ति के लिये वैश्विक गुणवत्‍ता मानकों के ऑटोमोबाइल्‍स और कम्‍पोनेन्‍ट्स का विनिर्माण करने में सक्षम है।

देहरादून। भारत में प्रीमियम कारें बनाने वाली प्रमुख कंपनी होंडा कार्स इंडिया लिमिटेड (एचसीआईएल) ने आज घोषणा की है कि इसने भारत में होंडा कारों के संचयी उत्‍पादन में 2 मिलियन यूनिट्स की उपलब्धि हासिल कर ली है। राजस्‍थान के तापुकारा स्थित कंपनी के अत्‍याधुनिक विनिर्माण संयंत्र में प्रीमियम सेडान होंडा सिटी औपचारिक रूप से असेम्‍बली लाइन से निकली है, जोकि भारत में निर्मित 20 लाखवीं होंडा कार है।

इस उपलब्धि से जुड़े आयोजन में होंडा के क्षेत्रीय कार्यालय का वरिष्‍ठ नेतृत्‍व मौजूद रहा, जैसे कि एशियन होंडा मोटर कंपनी लिमिटेड के एक्‍जीक्‍यूटिव वाइस प्रेसिडेंट श्री हिरोशी तोकुताके, एशियन होंडा मोटर कंपनी लिमिटेड के निदेशक श्री कात्‍सुहिरो कनेडा और एचसीआईएल की प्रबंधन टीम। एचसीआईएल ने भारत में अपने ग्राहकों के लिये प्रीमियम और विश्‍व स्‍तरीय उत्‍पादों की पेशकश करने पर केन्द्रित होकर दिसंबर 1997 में उत्‍पादन परिचालन शुरू किया था। 20 लाखवीं (2 मिलियन) कारों के उत्‍पादन की यह उपलब्धि भारत सरकार के “मेक इन इंडिया’’ सपने के लिये होंडा की प्रतिबद्धता भी दोहराती है।

इस मौके पर होंडा कार्स इंडिया लिमिटेड के प्रेसिडेंट एवं सीईओ श्री ताकुया सुमुरा ने कहा, “भारत में 2 मिलियन कारों के उत्‍पादन की ऐतिहासिक उपलब्धि पिछले 25 वर्षों से ‘मेक इन इंडिया’ पहल के लिये होंडा की प्रतिबद्धता को साबित करती है। हम गंभीरता से अपने सभी ग्राहकों, डीलर भागीदारों और सप्‍लायर भागीदारों के आभारी हैं, जिन्‍होंने हम पर विश्‍वास बनाया रखा है और होंडा को देश का बहुत चहेता और भरोसेमंद ब्राण्‍ड बनाया है।

भारत में हमारा अत्‍याधुनिक उत्‍पादन परिचालन घरेलू और निर्यात, दोनों बाजारों में आपूर्ति के लिये वैश्विक गुणवत्‍ता मानकों के ऑटोमोबाइल्‍स और कम्‍पोनेन्‍ट्स का विनिर्माण करने में सक्षम है। हम अपने सभी ग्राहकों को स्‍वामित्‍व का चिंता-मुक्‍त और प्रीमियम अनुभव देने के लिये सबसे उन्‍नत और अत्‍याधुनिक टेक्‍नोलॉजी वाले उत्‍पाद प्रदान करने के लिये प्रतिबद्ध हैं, जो कि उनके दैनिक जीवन में महत्‍व को बढ़ाते हों।” उन्‍होंने आगे कहा, “होंडा में हमारा कॉर्पोरेट लक्ष्‍य ऐसी कंपनी बनने का है, जिसके अस्तित्‍व को समाज भी बनाए रखना चाहता है। इस उत्‍साह के साथ हमारा मानना है कि हमारे प्रयास क्षेत्र और स्‍थानीय समुदाय के सामाजिक-आर्थिक विकास को लाभ पहुँचाते हैं।”

बीते वर्षों में होंडा के मॉडलों ने हमेशा कंपनी का वैश्विक डीएनए दिखाया है और वे भारतीय ग्राहकों की जरूरतों और आवश्‍यकताओं को पूरा करने के लिये सबसे बढ़िया हैं। कंपनी की उत्‍पाद श्रृंखला में प्रीमियम सेडान होंडा सिटी ई-एचईवी, होंडा सिटी, फैमिली सेडान होंडा अमेज़, प्रीमियम हैचबैक होंडा जैज़ और स्‍पोर्टी होंडा डब्‍ल्‍यूआर-वी शामिल हैं। एचसीआईएल न केवल भारत के ग्राहकों की जरूरतें पूरी करने के लिये भारत में ऑटोमोबाइल्‍स बनाती है, बल्कि तैयार वाहनों और कम्‍पोनेन्‍ट्स के लिये होंडा के एक महत्‍वपूर्ण निर्यात आधार के तौर पर भी काम करती है। कंपनी अभी भारत में निर्मित होंडा सिटी और होंडा अमेज़ का निर्यात दुनिया के 16 से ज्‍यादा बाजारों में करती है।

कंपनी ने भारत में परिचालन शुरू करने के बाद से संचयी आधार पर 10,000 करोड़ रूपये से ज्‍यादा का निवेश किया है।

राजस्‍थान के अलवर जिले के तापुकारा में होंडा कार्स इंडिया की अत्‍याधुनिक विनिर्माण सुविधा 450 एकड़ में फैली है और हर साल 180,000 वाहन बनाने की क्षमता रखती है। यह सुविधा एक एकीकृत विनिर्माण इकाई है, जहाँ सभी काम होते हैं, जैसे फोर्जिंग, प्रेस शॉप, पावरट्रेन शॉप, वेल्‍ड शॉप, पेंट शॉप, प्‍लास्टिक मोल्डिंग, इंजन असेम्‍बली, फ्रेम असेम्‍बली और इंजन टेस्टिंग की सुविधा। यह संयंत्र विनिर्माण की सर्वोत्‍तम जानकारी और अभ्‍यासों का संयोजन करता है, जो कि होंडा के वैश्विक परिचालन में होते हैं।

यहाँ ऑटोमेशन, सबसे नये उपकरण और सर्वश्रेष्‍ठ विन्‍यास है, जो उच्‍च गुणवत्‍ता, कर्मचारियों के लिये सर्वश्रेष्‍ठ स्थिति, बेहतर परिचालन क्षमता और सुरक्षा देते हैं। यह संयंत्र पर्यावरण के संरक्षण और ऊर्जा तथा दूसरे प्राकृतिक संसाधनों के सक्षम उपयोग पर प्रमुखता से केन्द्रित है। होंडा कार्स इंडिया ग्राहक के अनुभव को महत्‍व देती है और भारत के 242 से ज्‍यादा शहरों में फैली अपनी 330 डीलरशिप सुविधाओं की मदद से हर ग्राहक को सबसे अच्‍छी सेवाएं प्रदान करने का प्रयास करती है।


अधिक जानकारी के लिए संपर्क करे- विकास कुमार-8057409636

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Devbhoomi Samachar
Verified by MonsterInsights