आपके विचार

हर घर तिरंगा हम फहराएंगे, आजादी का जश्न मनाएंगे

नवनीत कुमार शुक्ल

15 अगस्त 2022 को हमारे देश की आजादी के 75 वर्ष पूरे हो रहे हैं। स्वतंत्रता दिवस को लेकर चारों ओर उत्साह नजर आ रहा है। देश की आजादी के 75 गौरवशाली वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में हमारा देश आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है इसी क्रम में देश के यशस्वी प्रधानमंत्री जी के आवाहन पर सम्पूर्ण राष्ट्र 11अगस्त से स्वतंत्रता सप्ताह मना रहा है जो 17 अगस्त तक चलेगा।

स्वतंत्रता सप्ताह के अंतर्गत हर घर तिरंगा अभियान 13 से 15 अगस्त तक चलाया जाएगा। 22 जुलाई 2022 को भारत के यशस्वी प्रधानमंत्री जी ने लोगों से अपील की कि हर घर तिरंगा अभियान के तहत देश का प्रत्येक नागरिक गाँव हो या शहर अपने अपने घरों में राष्ट्रीय ध्वज फहराएं। राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा शांति, प्रेम और एकता का प्रतीक है। भारत को आजाद कराने में कई स्वतंत्रता सेनानियों ने अपना बलिदान दिया यह उनके अमूल्य बलिदान का प्रतिनिधित्व करता है।

यह कार्यक्रम न सिर्फ लोगों के मन में देशभक्ति की भावना का संचार करेगा बल्कि हमारे राष्ट्रीय प्रतीकों के प्रति सम्मान का भाव भी जाग्रत करेगा। यदि हम इतिहास की ओर लौटें तो पाते हैं कि हमारे आपसी मनमुटाव तथा स्वयं की स्वार्थ सिद्धि के कारण हमारा भारतवर्ष सैकड़ो वर्षों तक अंग्रेजों का गुलाम था। अंग्रेजी हुकूमत ने देश की धन सम्पदा को सैकड़ों वर्षों तक लूटा तथा उसके साथ-साथ हमारे देश के नागरिकों से जी तोड़ मेहनत करवाते थे और उनके ऊपर भयानक अत्याचार और क्रूरता भी करते थे।

Related Articles

ब्रिटिश सरकार ने अत्याचार की जब सारी सीमाएं लांघ दी तब हमारे नागरिकों का धैर्य जवाब दे गया और भारत को आजाद कराने की चिंगारियां उठने लगी। देश को आजाद कराने की मुहिम की शुरुआत मुख्यतः 1857 की क्रांति से हुई जिसे प्रथम भारतीय स्वतंत्रता संग्राम, सिपाही विद्रोह और भारतीय विद्रोह के नाम से भी जाना जाता है।  यह ब्रिटिश शासन के विरुद्ध एक सशस्त्र विद्रोह था जो उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले से शुरू होकर धीरे-धीरे सम्पूर्ण भारत में फैल गया।

विद्रोह का अन्त भारत में ईस्ट इंडिया कम्पनी के शासन की समाप्ति के साथ हुआ और पूरे भारत पर ब्रिटिश ताज का प्रत्यक्ष शासन आरंभ हो गया जो अगले 9 दशकों तक चला। लगभग 90 वर्षों के भीषण संग्राम के बाद 15 अगस्त 1947 को देश को आजादी मिली। देश को आजाद कराने के लिए मंगल पांडेय, चंद्रशेखर आजाद, रानी लक्ष्मीबाई, नाना साहब, भगत सिंह, लाला लाजपतराय, अशफाक उल्ला खाँ, पंडित रामप्रसाद बिस्मिल, राजगुरु, सुखदेव जैसे हजारों नौजवान क्रांतिकारियों ने अपने प्राणों का बलिदान दिया।

हमारी सरकार द्वारा चलाया जा रहा हर घर तिरंगा अभियान उन सभी वीर सपूतों को स्मरण करने एवं उनके प्रति सच्ची श्रद्धांजलि अर्पित करने का सुनहरा अवसर लेकर आया है….

अपनी आजादी को हम हरगिज़ मिटा सकते नहीं, अमर बलिदानियों के बलिदान को भुला सकते नहीं।

प्रधानमंत्री जी के आवाहन पर पूरे देश के साथ-साथ हमारी प्रदेश सरकार ने हर घर तिरंगा अभियान को जोरदार ढंग से मनाने की बखूबी तैयारी कर ली है। उत्तर प्रदेश सरकार ने साढ़े चार करोड़ तिरंगा झंडा फहराने का लक्ष्य रखा है। भारी मात्रा में राष्ट्रीय ध्वज बनाने के लिए स्वयं सहायता समूह पूरी सजगता के साथ सक्रिय हैं। तो आइए हम सभी हर घर तिरंगा महा अभियान को सफल बनाने में अपना योगदान दें तथा देश की आजादी के लिए जिन वीर सपूतों ने अपना बलिदान दिया उनकी गौरवगाथा को जन-जन तक पहुंचाते हुए आजादी का पर्व हर्षोल्लास के साथ मनाएँ।

“हर घर तिरंगा हम फहराएंगे, भारत को सशक्त राष्ट्र बनाएंगे” जय हिन्द


¤  प्रकाशन परिचय  ¤

Devbhoomi
From »

नवनीत कुमार शुक्ल

शिक्षक एवं लेखक

Address »
प्राथमिक विद्यालय भैरवां द्वितीय, हसवा, फतेहपुर (उत्तर प्रदेश) | मूल निवास रायबरेली (उत्तर प्रदेश) | मो.न : 9451231908

Publisher »
देवभूमि समाचार, देहरादून (उत्तराखण्ड)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Devbhoomi Samachar
Verified by MonsterInsights