उत्तराखण्ड समाचार

स्वास्थ्य विभाग द्वारा किया गया 891 लोगों स्वास्थ्य परीक्षण

चमोली। जिलाधिकारी हिमांशु खुराना की अध्यक्षता में शनिवार को गैरसैंण विकासखंड के सुदूरवर्ती क्षेत्र महलचौरी में अस्पताल जनता के द्वार के तहत पहला बहु विशेषज्ञ चिकित्सा शिविर आयोजित कर 1500 से अधिक लोगों को लाभान्वित किया गया। स्वास्थ्य शिविर में जनरल सर्जन, आर्थो सर्जन, स्त्रीरोग व बाल रोग विशेषज्ञ, ईएनटी सर्जन के साथ विभिन्न गैरसंचारी रोगों की स्क्रीनिंग की गई।

स्वास्थ्य विभाग द्वारा 891 लोगों का पंजीकरण कर स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। जिसमें 102 हड्डी रोग,101 ईएनटी, 115 आंख, 78 बाल रोग महिला रोग, 72 दंत रोग, 151 जनरल सर्जरी, 21 दिव्यांग प्रमाण, 4 मानसिक रोगी प्रमाण पत निर्गत किए गए। महिला रोग विशेषज्ञों की टीम ने 125 महिलाओं की स्क्रीनिंग करते हुए 33 महिलाओं को अल्ट्रासाउंड के लिए रेफर किया। सभी 33 महिलाओं को एक दिन उप जिला अस्पताल कर्णप्रयाग में अल्ट्रासाउंड कराया जाएगा।

आयुष विंग के द्वारा 149, होमोपैथी के द्वारा 111 लोगो को दवा वितरण की गई। शिविर में कोविड टीकाकरण भी किया गया। चिकित्सा शिविर में विभिन्न विभागों द्वारा 48 आय प्रमाण पत्र, 05 आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के लिए आय एवं सम्पत्ति प्रमाण, 10 बीपीएल प्रमाण पत्र, 500 परिवार रजिस्ट्रर की नकल, 61 पेंशन सत्यापन (वृद्धा, विधवा, दिव्यांग) तथा विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा 50 लोगों को कानूनी सलाह दी गयी। राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के द्वारा स्थानीय उत्पाद उपलब्ध विक्रय किए गए।

जिलाधिकारी ने शिविर में जनता को संबोधित करते हुए कहा कि सुदूरवर्ती क्षेत्रों में कतिपय कारणों से लोग समय पर अपना स्वास्थ्य जांच नही करा पाते है और चिकित्सा में देरी के कारण बीमारी गंभीर रूप ले लेती है। लोगों तक आसानी से चिकित्सा सुविधा पहुंचाने के लिए जनपद के दूरस्थ क्षेत्रों में मल्टी स्पेशिएलिटी निःशुल्क स्वास्थ्य शिविर लगाने के लिए रोस्टर तैयार किया गया है, जिसका शुभारंभ आज महलचौरी से किया गया है।

चिकित्सा विशेषज्ञों की टीम के द्वारा बाल रोग, हड्डी, नेत्र व क्षय रोग, आंख, नाक, कान तथा विभिन्न गैरसंचारी रोगों की स्क्रीनिंग कराई जा रही है। बीमारी से गंभीर रूप से ग्रसित मरीजों को जिले के उच्च स्वास्थ्य केंन्द्रों में लाकर उपचार की सुविधा दी जाएगी। सभी रोगों का उपचार शिविर मे हो सके इसके लिए जनपद के बाहर से भी विशेषज्ञ चिकित्सकों की टीम बुलायी जा रही है। जिलाधिकारी ने जनपदवासियों से अपील भी की है कि विभिन्न क्षेत्रों में आयोजित होने वाले मल्टी स्पेशिएलिटी निःशुल्क स्वास्थ्य शिविर में अपना हेल्थ चैकअप कराते हुए शिविर का लाभ उठाए।

इस दौरान जिलाधिकारी ने क्षेत्रीय जनता की समस्याएं भी सुनी और संबधित अधिकारियों को प्राथमिकता पर समस्याओं का निस्तारण करने के निर्देश दिए। शिविर में क्षेत्रीय विधायक अनिल नौटियाल, पूर्व राज्य मंत्री सुरेश कुमार बिष्ट, ब्लाक प्रमुख शशि सौरियाल, मंडल अध्यक्ष भाजपा महावीर रावत, प्रेम संगोला, कस्तूरी देवी, उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल अध्यक्ष सुरेश बिष्ट, अपर जिलाधिकारी अभिषेक त्रिपाठी, एसडीएम संतोष कुमार पांडेय, प्रभारीसीएमओ डा.राजेश शर्मा, नेत्र रोग विशेषज्ञ डा.एमएस खाती, बाल रोग विशेषज्ञ डा.मानस सक्सेना, ईएनटी सर्जन डा. शिखर भट्ट, दंत चिकित्सक डा.हरीश थपलियाल, मानसिक रोग विशेषज्ञ डा.नवीन डिमरी, अधीक्षक सीएचएसी डा.अर्जुन सिंह रावत सहित बडी संख्या में क्षेत्रीय जनता मौजूद रही।

विदित हो कि आगामी 26 अगस्त को नन्दासैंण, 03 सितंबर को मलारी, 13 सितंबर को सलना, 22 सितंबर को निजमुला, 11 अक्टूबर को सितेल, 28 अक्टूबर को झिझोणी, 10 नवंबर को लोल्टी, 26 नंवबर को प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र उर्गम, 13 दिसंबर को रौता, 30 सितंबर को सवाड, 11 जनवरी को मटई, 25 जनवरी को कुनीपार्था, 9 फरवरी को जस्यारा, 24 फरवरी को परखाल, 10 मार्च को मेहलचौरी, 20 मार्च को लोहाजंग, 28 मार्च को स्यूणबेमरू में स्वास्थ्य शिविर लगाए जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Devbhoomi Samachar
Verified by MonsterInsights